जामताड़ा : सदर अस्पताल में मरीजों के लिए बेहतर सुविधा सुनिश्चित करें ताकि जिले के मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य लाभ प्रदान किया जा सके। शनिवार को डीसी कार्यालय के सभागार में उपायुक्त गणेश कुमार जिला अस्पताल प्रबंधन समिति की बैठक को संबोधित करते हुए उक्त निर्देश दिया। उपायुक्त ने कहा कि गुणवत्तापूर्ण आहार मरीजों को मिले इसके लिए समय-समय पर मरीजों को मिलनेवाले भोजन की जांच करें। बिजली आपूर्ति नहीं होने पर जनरेटर के माध्यम से बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने को कहा।

मरीजों की निगरानी के लिए पूरे अस्पताल परिसर में सीसीटीवी कैमरे लगाने को कहा ताकि अस्पताल की हर गतिविधि पर नजर रखी जा सके। इसके साथ ही अस्पताल से मिलनेवाली दवाओं पर भी नजर रखने की जरूरत बताई। डीसी ने कहा कि बहुत से गरीब रोगी अस्पताल आते हैं उन्हें मुफ्त में दवा व एम्बुलेंस सेवा पूरी तरह से बहाल करने के साथ ही अस्पताल परिसर को स्वच्छ रखने के लिए हर संभव कार्य करने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने सिविल सर्जन को निर्देश दिया कि अस्पताल में तड़ित चालक यंत्र, अग्निशामक यंत्र का अवलोकन करते हुए अद्यतन स्थिति से जिला प्रशासन को अवगत कराएं।

उपायुक्त ने कहा कि सदर अस्पताल जामताड़ा में ओपीडी हॉल के प्रतीक्षालय में बड़ा स्क्रीन वाला टीवी जल्द से जल्द लगाएं। साथ ही वॉटर प्यूरीफायर लगाने का निर्देश दिया। सदर अस्पताल के मेन गेट पर रेडियम युक्त तथा उसकी लाइट आदि लगाने को लेकर चर्चा की गई। सदर अस्पताल के गेट पर एक बड़ा बोर्ड लगाने जिसमें विभिन्न विभागों तथा कमरा संख्या अंकित हो, दंत विभाग में एसी, वाटर प्यूरीफायर तथा इंस्ट्रूमेंट लगाने, नोटिस बोर्ड, सिनेज, पार्किंग आदि विषयों पर चर्चा हुई तथा उपायुक्त ने आवश्यक दिशानिर्देश दिया। मौके पर सिविल सर्जन डॉ. आशा एक्का, अस्पताल उपाधीक्षक चंद्रशेखर आजाद, समाज कल्याण पदाधिकारी स्नेह कस्यप, कार्यपालक पदाधिकारी रामाश्रय दास, डॉ. दुर्गेश झा, अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी एसके मिश्र, बदलाव फाउंडेशन के सचिव अरविंद कुमार, अधिवक्ता सुधीर प्रसाद सिंह, डीपीएम संगीता लुईस बाला एक्का आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस