संवाद सूत्र, बिंदापाथर (जामताड़ा)। सड़क पर गाड़ियों को रोक कर सरस्वती पूजा के लिए चंदा उठा रहे कुछ युवकों ने एक दंपत्ति के साथ जमकर मारपीट की। घटना बिंदापाथर थाना क्षेत्र के लकड़ाकुंदा गांव के समीप हुई। सोमवार की शाम सरस्वती पूजा की चंदा उठा रहे युवकों ने इस रास्ते से जा रहे देवघर जिले के खागा थाना क्षेत्र के घोड़ादाहा निवासी मलिंद मुर्मू व उनकी पत्नी सुनीता किस्कू को रोका। चंदा देने से इंकार करने पर वहां मौजूद युवकों ने पति-पत्नी के साथ मारपीट की। इस दौरान महिला को गंभीर चोटें आई हैं और उसका इलाज सदर अस्पताल जामताड़ा में किया जा रहा है।

युवकों ने दंपत्ति से मारपीट भी की और पैसे भी छिने

मलिंद मुर्मू ने घटना की सूचना बिंदापाथर थाने में दी है। मुर्मू के आवेदन पर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है,  जिसमें लकड़कुदा गांव के कृष्णा सिंह के पुत्र सहित 12 युवकों पर गर्भवती महिला के साथ मारपीट व 12,300 रुपये की छिनतई के आरोप में केस दर्ज किया गया है। मुर्मू ने बताया कि रविवार को वह अपनी पत्नी के साथ टाटा मैजिक से मनिहारी का समान बेचने घोड़ादाहा स्थित अपने घर से नाला की ओर जा रहे थे। इसी क्रम में बिंदापाथर थाना क्षेत्र के लकड़ाकुंदा गांव के समीप दस-बारह युवकों ने सरस्वती पूजा की चंदा के लिए उन लोगों को रोक लिया।

गर्भवती महिला का अस्‍पताल में चल रहा इलाज

उन्होंने युवकों से बोला कि दो दिन पहले ही चंदा दे चुका हूं, लेकिन युवक नहीं माने व गाली-गलौज करते हुए उनके साथ मारपीट करने लगे। इस दौरान जब उनकी पत्नी उन्हें बचाने लगी, तो उसके साथ भी मारपीट करने लगे। इतना ही नहीं, वहां मौजूद महिलाओं ने भी उनकी पत्नी को पीटा। उनकी पत्नी गर्भवती है। मारपीट से पत्नी घायल हो गई है, जिसका इलाज सदर अस्पताल जामताड़ा में किया जा रहा है। इस संबंध में बिंदापाथर थाना प्रभारी मनोज कुमार सिंह ने बताया कि आवेदन के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर लिया गया है। मामले की छानबीन की जारी है।

ये भी पढ़ें- नर्सिंग होम कर्मियों पर आदिवासी महिला ने लगाया सामूहिक दुष्कर्म का आरोप, ग्रामीणों ने क्लीनिक में की तोड़फोड़

Edited By: Arijita Sen

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट