संवाद सहयोगी, मुरलीपहाड़ी (जामताड़ा ) : राज्य सरकार के निर्देश के बाद शैक्षणिक अंचल नारायणपुर के सभी उच्च विद्यालय तथा प्लस टू विद्यालय शत प्रतिशत शिक्षकों के साथ खुल गए । इन विद्यालयों में नौ अगस्त से पढ़ाई आरंभ होगी। कक्षा नवम, दशम 11वीं, 12वीं की पढ़ाई अभिभावकों के सहमति पत्र के बाद शुरू होगी। हालांकि जिला शिक्षा पदाधिकारी का पत्र विद्यालयों को अब तक नहीं प्राप्त हुआ है ।

सोमवार को उत्क्रमित उच्च विद्यालय मुरलीपहाड़ी, गोकुला, सबनपुर तथा प्रोजेक्ट प्लस टू उच्च विद्यालय चैनपुर में विद्यालय भवन के कमरों को सैनिटाइज्ड किया गया। साथ ही पूरे परिसर में सफाई का कार्यक्रम चलाया गया। विद्यालय के प्रधानाध्यापक तथा शिक्षकों ने अपने मौजूदगी में पूरे परिसर की सफाई करवाई और सैनिटाइजेशन का कार्य पूर्ण कराया। सरकार की गाइड लाइन का अनुपालन विद्यालयों ने आरंभ कर दिया गया। जब विद्यालय में अगले सप्ताह सोमवार से विद्यार्थियों का आगमन शुरू होगा तो उन्हें स्वच्छ तथा संक्रमण मुक्त वातावरण में विद्यालय मिलेगा। राज्य सरकार ने कोरोना की दूसरी लहर के दौरान से ही सभी प्रकार के विद्यालयों में को बंद कर दिया था। अब जब संक्रमण की रफ्तार शून्य की ओर है तो विद्यार्थियों के पठन-पाठन की चिता सरकार ने की । सर्वप्रथम उच्च विद्यालय को कक्षा नवम तथा दशम के लिए खोला गया और प्लस टू में दोनों ही कक्षाएं चलेगी। जिन विद्यार्थियों को शिक्षकों से आफलाइन शिक्षा हासिल करनी है उन्हें अभिभावकों के माध्यम से सहमति पत्र विद्यालय को जमा करना पड़ेगा। जो विद्यार्थी अभिभावकों से सहमति पत्र देंगे उन्हें ही विद्यालय में शिक्षा ग्रहण करने के लिए प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। हालांकि सोमवार को शिक्षकों ने विद्यालय में अन्य प्रकार के कार्यों को भी संपादित किया।

उत्क्रमित उच्च विद्यालय गोकुला में प्रधानाध्यापक डाक्टर मदन मोहन गोराई ने शिक्षकों के साथ विद्यालय संचालन से जुड़े विषयों पर चर्चा की। सभी विद्यार्थियों को सोमवार से मास्क पहनकर ही आने जैसी सूचना प्रसारित करने को कहा गया। अभिभावकों की सहमति पत्र को भी ले लेने की विषय पर चर्चा हुई।

Edited By: Jagran