मिहिजाम (जामताड़ा) : बेरोजगार युवकों से नौकरी दिलाने का नाम पर धोखाधड़ी कर लाखों रुपये की ठगी करने का मामला थाना में दर्ज कराया गया है। कालीतल्ला निवासी जितेंद्र शर्मा, पिता स्वर्गीय हरबंस लाल शर्मा ने अरविंद कॉलोनी निवासी स्नेहाशीष चक्रवर्ती उर्फ पापन एवं पीपास दासगुप्ता पर रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर 3 लाख 20 हजार रुपये ठगी करने का आरोप लगाया है। बताया कि तीन वर्ष पूर्व नौकरी की तलाश में जितेंद्र का संपर्क इन दोनों से हुआ। स्नेहशीष और पीपास ने अपनी पहचान रेलवे के उच्च अधिकारियों एवं मंत्री से बता कर कुछ प्रमाण दिखाते हुए अपने विश्वास में ले लिया। उसके बाद पैसे लेकर आज कल करने लगा। कई माह बीतने के बाद भी नौकरी का कोई कागजात नहीं मिला तो उसके बाद जितेन्द्र ने कड़ाई के साथ पैसा वापस मांगा। उसके बाद दोनों ने चुप्पी साध ली। बाद में पता चल कि दोनों आरोपितों ने अन्य बेरोजगार युवाओं से भी नौकरी के नाम पर पैसा ठगा है। इन दोनों ने आमबगान निवासी गोपाल विश्वास से 1 लाख 50 हजार रुपये, बोदमा निवासी सांतनु दास से 50 हजार रुपये, अरविन्द कॉलोनी निवासी पिन्टु चटर्जी से 42 हजार रुपये, सालबगान निवासी मानु रजक से 40 हजार रुपये एवं अरविंद कॉलोनी निवासी तापस घोष से 60 हजार रुपये की ठगी की है। सभी छह बेरोजगार युवकों ने पूर्व में शिकायत पत्र के माध्यम से एसपी से गुहार लगायी थी। इसी पर प्राथमिकी दर्ज की गई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप