जामताड़ा : सभी केंद्रों पर कदाचारमुक्त व स्वच्छ वातावरण में परीक्षा संचालन करना सुनिश्चित करें। केंद्रों में जो भी मूलभूत आवश्यकताएं हैं उसे समय से पूर्व पूरा करें। बुधवार को अपने कार्यालय के सभागार में आगामी 19 सितंबर को होनेवाली झारखंड संयुक्त असैनिक सेवा (प्रारंभिक) प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी की समीक्षा करते हुए उपायुक्त फैज अक अहमद मुमताज ने यह निर्देश दिया। डीसी ने कहा कि कदाचार मुक्त परीक्षा संचालन के लिए परीक्षा के एक दिन पूर्व से परीक्षा समाप्ति तक जिला नियंत्रण कक्ष सक्रिय रहेगा। किसी भी तरह की समस्या होने पर दूरभाष संख्या 8292217734 तथा 9693459540 पर सूचना देने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने कहा कि परीक्षा के दौरान कोविड 19 गाइडलाइन का अक्षरश: पालन करना अनिवार्य होगा। उन्होंने कहा कि झारखंड लोक सेवा आयोग द्वारा निर्धारित मापदंड के अनुसार सभी परीक्षा केंद्रों पर आवश्यक मूलभूत व्यवस्था सुनिश्चित करें।

जिले में जेपीएससी प्रारंभिक परीक्षा कुल 20 परीक्षा केंद्रों में होगी जहां कुल 4250 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल होंगे। डीसी ने सभी केंद्राधीक्षक को दिव्यांग अभ्यर्थियों के लिए भूतल (ग्राउंड फ्लोर) में व्यवस्था करने, प्रवेश द्वार पर थर्मल स्क्रीनिग करने, सीटिग प्लान विवरण परिसर के प्रवेश द्वार पर चिपकाने को कहा। साथ ही परीक्षार्थियों की सुविधा के लिए पंखा, पेयजल, शौचालय, साफ-सफाई की व्यवस्था, छात्र-छात्राओं के लिए अलग-अलग शौचालय की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

इस मौके पर वन प्रमंडल पदाधिकारी बनकर अजिक्य देवीदास, उप विकास आयुक्त अनिलसन लकड़ा, आइटीडीए निदेशक अभिषेक श्रीवास्तव,अपर समाहर्ता सुरेंद्र कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी संजय पांडेय, जिला भू अर्जन पदाधिकारी अंजना दास, परिवहन पदाधिकारी अजय कुमार तिर्की, कोषागार पदाधिकारी प्रधान मांझी, जिला शिक्षा पदाधिकारी अभय शंकर, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, सभी केंद्राधीक्षक आदि उपस्थित थे।

-----------------

जेपीएससी प्रारंभिक परीक्षा को डीसी-एसपी ने जारी किया संयुक्त आदेश

जासं, जामताड़ा : उपायुक्त व एसपी क ने कदाचार मुक्त व स्वच्छ वातावरण में परीक्षा संचालन के उद्देश्य से संयुक्त आदेश जारी किया। यह परीक्षा आगामी 19 सितंबर, रविवार को प्रथम पाली में प्रात: 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक, द्वितीय पाली दोपहर बाद दो बजे से चार बजे तक आयोजित की जाएगी। इस मौके पर शांति व विधि व्यवस्था के साथ परीक्षा केंद्रों में कदाचार मुक्त तथा स्वच्छ परीक्षा संचालन को ले डीसी-एसपी ने विभिन्न दिशा निर्देश दिया। परीक्षा केंद्रों में स्टैटिक दंडाधिकारी (केंद्र पर्यवेक्षक), पुलिस पदाधिकारी व पुलिस बल तथा जोनल दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति 19 सितंबर को प्रात: 6:30 से की गई है। सभी प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी व पुलिस पदाधिकारी को 19 सितंबर को आयोजित होनेवाली झारखंड संयुक्त सैनिक सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा व व्यवस्था संधारण के साथ-साथ सुरक्षा सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है।

डीआरडीए निदेशक को परीक्षा संचालन के निमित्त सहायक समन्वयक के रूप में प्रतिनियुक्त किया गया है जो शांतिपूर्ण कदाचार रहित परीक्षा संचालन के लिए समन्वयक सह उपायुक्त के दिशा निर्देश में कार्य करेंगे। जोनल सह उड़नदस्ता दंडाधिकारी का दायित्व परीक्षा केंद्र के पर्यवेक्षक सह स्टैटिक दंडाधिकारी को विधि व्यवस्था संबंध में आवश्यक सहयोग प्रदान करने को कहा गया है। साथ ही उत्तर पुस्तिका की सुरक्षा, प्रत्येक केंद्रों पर वितरण तथा परीक्षा उपरांत दोनों पालियों की उत्तर पुस्तिका कोषागार में रखने व केंद्रों पर अभिभावकों के अनावश्यक भीड़ को नियंत्रित करने का दायित्व दिया गया है। परीक्षा के दिन विधि व्यवस्था के संपूर्ण प्रभार का दायित्व अनुमंडल पदाधिकारी व जामताड़ा के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को दिया गया है।

Edited By: Jagran