फतेहपुर : चुनाव से पहले नाला विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न दल के नेताओं ने कई सड़कों की स्वीकृति अपने दम पर कराने के लिए वाहवाही बटोरने में कोई कसर नहीं छोड़ा। इसके लिए सोशल मीडिया में प्रचार-प्रसार भी किया गया कि मुख्य सड़क अमुक नेता के प्रयास से स्वीकृत हुई है लेकिन प्रखंड की बनूडीह पंचायत के झिलुआ से बबनडीहा जानेवाली उबड़-खाबड़ सड़क पर किसी का ध्यान नहीं गया। लोगों ने समस्या की गुहार जनप्रतिनिधियों से कई बार लगा चुके हैं लेकिन अब तक समाधान नहीं हुआ है। लोगों में नेता के प्रति असंतोष की भावना है।

क्या कहते हैं ग्रामीण : नेता सिर्फ वोट की राजनीति करते हैं जनता की समस्या से इन्हें कोई लेना-देना नहीं है वे सिर्फ चुनाव के समय गांव आते हैं इसके बाद पांच साल तक उनका दर्शन नहीं होता।

कालेश्वर हेंब्रम, ग्रामीण

..

झिलुआ से बबनडीहा सड़क काफी जर्जर है लेकिन इसे देखनेवाला कोई नहीं। नेता विकास की सिर्फ थोथी दलील देते हैं।

सोनामणि हांसदा, ग्रामीण

..

सड़क, पानी जैसी मूलभूत सुविधा पर नेता का ध्यान नहीं रहता है ऐसे में नेता सिर्फ चुनाव के समय अपने स्वार्थ सिद्धि के लिए ही जनता को याद करते हैं।

हीरालाल राणा, ग्रामीण

..

पांच साल में कई बार इस सड़क को लेकर ग्रामीणों ने जनप्रतिनिधि के समक्ष समस्या से अवगत कराया लेकिन समाधान नहीं हुआ।

विशाखा राणा, ग्रामीण

..

जो विकास करेगा उसे ही अपना बहुमूल्य मत देंगे हवाबाजी करनेवाले नेता को सबक सिखाएंगे।

खेलादासी राणा, ग्रामीण

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप