जामताड़ा : जिला प्रशासन द्वारा तैयार लेखा होड़ की त्रुटिपूर्ण सूची में सुधार की मांग को लेकर शनिवार को स्थानीय गांधी मैदान में मांझीथान जाहेरथान संबंर्धन समिति ने एक दिवसीय प्रदर्शन किया।

झारखंड महिला आयोग सदस्य डॉ. शर्मिला सोरेन ने कहा कि राज्य सरकार ने लेखा होड़ को सम्मान राशि देने का निर्णय लिया है। इस निमित जिला प्रशासन से लेखा होड़ की सूची मांगी गई थी। जिला प्रशासन द्वारा भेजी गई सूची त्रुटिपूर्ण है। जिले में 500 आदिवासी बहुल गांव है। प्रत्येक गांव में छह-छह लेखा होड़ आरंभ काल से ही अपना दायित्व का निर्वहन करते आ रहा है। प्रत्येक आदिवासी बहुल गांव में मांझी, जोग मांझी, नायिकी, कुड़म नायिकी, प्राणिक एवं गुडेत होते हैं। सभी लेखा होड़ का अपना सामाजिक दायित्व होता है। जिले में लेखा होड़ की संख्या तीन हजार है। जबकि जिला प्रशासन द्वारा सरकार को सौंपी गई सूची में 82 लेखा होड़ का नाम अंकित है। ग्राम प्रधान मांझी संगठन के प्रमंडलीय अध्यक्ष भीम मंडल ने कहा सरकार ने सभी श्रेणी के लेखा होड़ को सम्मान राशि देने की स्वीकृति प्रदान की है। इस निमित सभी जिला से सूची की मांग की गई थी। समिति त्रटिपूर्ण सूची सुधार के प्रयास में आंदोलन कर रही है। मांझीथान-जाहेरथान के प्रमंडलीय संयोजक इंग्लिशलाल मरांडी ने कहा संताल परगाना कास्तकारी अधिनियम की धारा 46 एवं 47 में माल गुजारी वसूली का अधिकार ग्राम प्रधान को है। इसके बाद सरकार वर्तमान समय में ऑनलाइन माल गुजारी वसूली की व्यवस्था बहाल कर रही है। इस व्यवस्था को बनाने से ग्राम प्रधान का महत्व समाप्त होगा वहीं कास्तकारी अधिनियम पर भी प्रश्नचिह्न लग जाएगा। सरकार से मांग करता हूं कि आदि काल से चल रही माल गुजारी वसूली की व्यवस्था को यथावत बनाये रखें। प्रदर्शन के उपरांत सदस्यों ने ग्राम सभा का आयोजन किया गया। जहां लेखा होड़ ने अपने समस्याओं के साथ आगामी तैयार होने वाले रणनीति पर सुझाव दिया। सर्व सहमति से निर्णय लिया गया कि जिले में कोई भी लेखा होड़ सम्मान राशि पाने से वंचित नहीं रहे इस निमित मांझीथान-जाहेरथान संबंर्धन समिति जिले के सभी प्रखंड में प्रखंड स्तरीय बैठक कर सभी श्रेणी के लेखा होड़ की सूची तैयार करेगा। वहीं संगठन विस्तार पर अहम निर्णय लेगा। यह भी निर्णय लिया गया कि समिति द्वारा तैयार सूची सम्मान राशि भुगतान को राज्य सरकार के समक्ष प्रस्तुत किया जायेगा। आगे संबंर्धन समिति ने निर्णय लिया कि आगामी पांच जनवरी को गांधी मैदान में एक दिवसीय सोहराय समारोह का आयोजन किया जायेगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता व संचालन प्रमंडलीय सह संयोजक शिवलाल मुर्मू ने किया। प्रदर्शन में मदन मुर्मू, हीरालाल मुर्मू, मंगल मुर्मू, गोमस्ता मुर्मू, गोमस्ता सोरेन, सुधीर हेम्ब्रम, शंकर हेम्ब्रम, दुर्गा मरांडी आदि जिले के सभी गांव के मांझी,जोग मांझी,नायिकी,कुडम नायिकी,प्राणिक एवं गुडेत ने भाग लिया।

Posted By: Jagran