कुंडहित (जामताड़ा) : लगातार बारिश होने पर इस साल किसान कृषि कार्य को लेकर खुश हैं। बारिश के साथ ही किसान हल-बैल लेकर खेत में कृषि कार्य में जुट गए हैं। जबकि सरकार द्वारा किसानों को अनुदानित दर व समय पर धान बीज उपलब्ध नहीं हुआ। किसान पीछले साल का रखा हुआ बीज को रोहिणी नक्षत्र में बोये थे। रोहनी नक्षत्र में बोये बीज लगातार बारिश से तैयार हो गया। इधर कुंडहित के अलावे लौहाट, सोराकी, जितुहिड़, डुमरा, पालाजोड़ी, चंद्रडीह, प्रसादपुर, महुला, गडजोडी, तिलाबाद, रसुनपुर, माझगडिया, खजुरी, पुतुलबोना भंगाहीड़ आदि दर्जनों गावं के किसान खेत में धनरोपनी का कार्य शुरूकर दिया। कोई-कोई किसान धनरोपनी के लिए खेत को हल तथा ट्रैक्टर से तैयार किया जा रहा है। दस दौरान किसान काबलु माजि, पाड़ु हासंदा, अबिश्वर हेंब्रम, आनंद सोरेन, नारायण घोष ने बताया कि इस साल लगातार छीटपुट बारिश होने के कारण खेत में पानी लबालब है। खेत में लबालब पानी होने पर कृषि कार्य करने में आसान हो रहा है। इसी तरह जुलाई माह भर बारिश हुए तो कृषि कार्य खत्म हो जाएगा। किसानों ने कहा पीछले तीन चार साल से समुचित बारिश नहीं होने के कारण मुसकिल से खेती किया गया था। इस खेत का पानी दूसरे खेत में ले जाकर खेती किया गया था। लेकिन इस साल खेत में पानी समुचित है।

क्या कहते है अधिकारी प्रभारी कृषि पदाधिकारी सुबल शर्म ने बताया कि इस साल एक से 31 जून तक 102.7 मिली बारिश दर्ज की गई। जबकि पीछले साल से 53 मिली बारिश ज्यादा हुआ है। प्रखंड क्षेत्र के सभी गावों में धनरोपनी कार्य शुरू किया गया है।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस