जामताड़ा : मानवाधिकार दिवस के अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकार के तत्वावधान में मंगलवार को बेवा उच्च विद्यालय में विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। अध्यक्षता करते हुए जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव कुशेश्वर सिकू ने बच्चों को बताया कि देश में मानवाधिकार आयोग काम कर रहा है। अगर किसी के साथ मानवाधिकार का हनन हो रहा है। आस-पास में अधिकार हनन की घटना घट रही है तो सूचना आप जिला विधिक सेवा प्राधिकार को दें। प्राधिकार ऐसे मामलों को संज्ञान में लेते हुए उसे अधिकार उपलब्ध कराएगा।

सचिव ने बताया कि मानव अधिकार हनन कई प्रकार से होता है। छोटे बच्चों को काम करने के लिए होटलों और कारखानों में भेजना समेत कई उदाहरण है। बच्चों को होटलों, रेस्टोरेंट और ईट-भट्ठा पर काम कराना कानूनी अपराध है। इसकी सूचना किसी भी व्यक्ति के द्वारा दी जाती है तो उसका नाम गोपनीय रखा जाता है। काम करानेवाले और काम पर भेजनेवाले दोनों लोगों को अर्थदंड के साथ सजा मिलने का भी प्रावधान है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस