धरना पर बैठे दलित परिवार के सदस्यों ने एसपी को सौंपा मांग पत्र

जागरण संवाददाता, जामताड़ा : चीरूडीह के पीड़ित दलित परिवार का जामताड़ा कोर्ट परिसर स्थित आंबेडकर मूर्ति के समक्ष धरना शनिवार को 16वें दिन भी जारी रहा। पीड़ित परिवार नारायणपुर के चीरूडीह गांव एवं सर्खेलडीह राखवन के हैं। धरना दे रहे परिवार दलित हैं और न्याय पाने के लिए धरना दे रहे हैं। शनिवार को पीड़ित सुनीला देवी एवं सुबोध बाउरी द्वारा पुलिस अधीक्षक जामताड़ा को लिखित आवेदन दिया गया कि इतने लंबे समय तक वे पीड़ित धरना दे रहे हैं, परंतु आज तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई। इससे वे निराश होकर हो गए हैं। अगर जल्द उन्हें न्याय नहीं मिलता है तो वे आमरण-अनशन पर बैठ जाएंगे। इस आवेदन की कापी उपायुक्त जामताड़ा, पुलिस उपमहानिरीक्षक संताल परगना क्षेत्र दुमका, पुलिस महानिदेशक, झारखंड, मुख्य सचिव झारखंड को भी दिया गया है।

पीड़ितों ने कहा कि अभियुक्तों की गिरफ्तारी जब तक नहीं होगी और न्याय नहीं मिलेगा तब तक अनिश्चितकालीन धरना चलते रहेगा। वे लोग अपनी एक इंच भी जमीन नहीं छोड़ेंगे। न्याय नहीं मिला तो यहीं जान दे देंगे। मौके पर अधिक संख्या में दलित समाज के लोग एवं उत्पीड़न के शिकार सभी दलित परिवार के सदस्य उपस्थित थे।

Edited By: Jagran