जामताड़ा : पिछले दिनों प्रदर्शन के क्रम में सरकार व आंगनबाड़ी कर्मियों के बीच हुए समझौता को शीघ्र लागू करने की मांग को लेकर शुक्रवार को सदर प्रखंड परिसर स्थित परियोजना कार्यालय के समक्ष आंगनबाड़ी सेविका सहायिका संघ सीआइटीयू के बैनर तले एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन किया। धरना प्रदर्शन का नेतृत्व संघ जिला सचिव रमणी मरांडी ने की। जबकि कार्यक्रम का संचालन जिला कार्यकारी अध्यक्ष रीता घोष ने की। मौके पर प्रदेश कोषाध्यक्ष लखन लाल मंडल ने कहा कि झारखंड में रघुवर सरकार तानाशाही रुख अपनाकर सरकार चला रही है, जबकि पिछले दिनों आंदोलन के क्रम में सूबे में आंगनबाड़ी कर्मी के मांग के प्रति सरकार के साथ हुए समझौता पर अनिश्चितकालीन हड़ताल समाप्त कराया गया लेकिन कोई पहल नहीं हुई। सरकार के इस उदासीन कार्यशैली ने लंबित मांग को लागू कराने को आंगनबाड़ी कर्मियों को आंदोलन करने को मजबूर कर दिया है। संघ पुन: सरकार से मांग करता है कि जो समझौता पहले कर चुके हैं उसे लागू करने का पहल शुरू करें, अन्यथा झारखंड राज आंगनबाड़ी सेविका सहायिका सीआइटीयू के बैनर तले चरणबद्ध आंदोलन करते हुए सरकार के सारे कामकाज को ठप कर देगा। धरना-प्रदर्शन में बेबी महतो, हारून रशीद, रुकीना बीबी,सहनाज बेगम, सावित्री देवी, कुसुम देवी आदि सेविका-सहायिका मौजूद थी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस