जागरण संवाददाता, जामताड़ा : मंगलवार दोपहर एसपी अंशुमन कुमार के निर्देश में पुलिस की विशेष टीम ने जामताड़ा नगर थाना क्षेत्र के बेवा बाइपास के पास छापेमारी कर एक लग्जरी कार में लदा 60 किलो गांजा बरामद किया। कार पश्चिम बंगाल के नियामतपुर के मनीष के नाम से निबंधित है। पुलिस नंबर के आधार पर कार मालिक को ढूंढने में लगी है। हालांकि कार की बिक्री कई बार हुई है। एसपी ने छापेमारी टीम में शामिल थाना प्रभारी सह इंस्पेक्टर मनोज कुमार समेत पांच अधिकारी व जवानों को पुरस्कृत करने की अनुशंसा की है।

मंगलवार शाम को एसपी कुमार ने नगर थाना में पत्रकारों को बताया कि गुप्ता सूचना मिली थी कि एक महंगी कार में मादक पदार्थ लदा है और उसे जामताड़ा नगर थाना क्षेत्र में खपाने का प्रयास किया जा रहा है। इस पर इंस्पेक्टर मनोज कुमार की अगुवाई में पुअनि अजीत कुमार, आरक्षी राकेश, भूपति व रामलाल के साथ टीम गठित कर संभावित ठिकानों में छापेमारी करने का निर्देश दिया गया। छापेमारी के दौरान बेवा बाइपास पर सुनहला रंग की (डब्ल्यूबी 38 जेड-6320) नंबर की कार खड़ी मिली। एसपी ने बताया कि कार में तलाशी के दौरान दो बोरा में पैक गांजा कुल बारह पैकेट में भरा था। गांजा का कुल वजह 60 किलो था। कार की डिक्की में गांजा था।

एसपी कुमार ने बताया कि इस धंधे में जो भी संलिप्त पाए जाएंगे, उनपर कड़ी कार्रवाई होगी। ऐसे तत्वों को चिह्नित करने को जांच शुरू कर दी गई है। इस उपलब्धि के लिए छापेमारी में शामिल सभी पांच अधिकारी व जवानों को रिवार्ड दिया जाएगा। उन्होंने जनता से अपील की कि वे ऐसे असमाजिक व आपराधिक तत्वों की गतिविधियों की जानकारी दें, पुलिस तत्काल कार्रवाई करेगी। इधर, पता चला कि बंगाल के रास्ते ही कार बाइपास पहुंची थी। संभवत: देवघर में गांजा को खपाया जाता। कार से दो खाली बोरा भी बरामद हुआ है। इससे इंगित हो रहा है कि धंधेबाज रास्ते में बोरे के गांजा का जहां-तहां खपाया होगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप