जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। कोरोना का असर सभी पर पड़ा है। कंपनी हो या फिर कर्मचारी या वहां के अधिकारी कोई इसके प्रकोप से अछूता नहीं है। टाटा स्टील की सहायक तार कंपनी(आइएसडब्ल्यूपी) व जेम्को के कर्मचारी व अधिकारी दोनों कोरोना को लेकर हुए लॉकडाउन  से प्रभावित हुए हैं।

यहां के अधिकारियों को प्रत्येक वर्ष अप्रैल से मई तक परफॉरमेंस बोनस पीबी मिल जाता है, जो अभी तक नहीं मिल पाया है। मार्च महीने में बोनस देने के पूर्व अधिकारियों की रेङ्क्षटग से लेकर उनके कार्य क्षमता, दक्षता व प्रदर्शन का आकलन होता है फिर उसी आधार पर इन्हें बोनस मिलता है। ये सभी प्रक्रियाएं मार्च में शुरू होने वाली थी, इसी बीच कोरोना को लेकर लॉकडाउन हो गया, कंपनी बंद हुई तथा उत्पादन ठप हो गया।  तार कंपनी व जेम्को में कुल अधिकारियों की संख्या करीब 150 होगी।

कर्मचारियों को तीन से चार हजार का नुकसान

तार कंपनी के कर्मचारियों को बीते बुधवार को मई माह का वेतन मिला है। इन कर्मचारियों को तीन से हजार का नुकसान हुआ है। मई महीने  में उत्पादन  कम होने की वजह से कर्मचारियों को इसेंटिब बोनस कम मिला है। वहीं जेम्को कर्मचारियों को एक से दो हजार का नुकसान बताया गया है।

कोरोना से जीतने को मिले टिप्स

तार कंपनी व जेम्को कर्मचारियों को पर्यावरण दिवस के मौके पर वहां के प्रबंध निदेशक नीरज कांत ने कोरोना से निपटने की टिप्स दी है। वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए एमडी ने कर्मचारियों को पर्यावरण संरक्षण का संकल्प दिलाया तो कोरोना से घबराने की नहीं बल्कि उससे बचने की सलाह दी। 

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस