जमशेदपुर : जब जान पर बन आए तो आम इंसान क्या, चोरों को भी डर लगने लगता है। जिंदगी बचाने के लिए कुछ भी करने को तैयार रहते हैं। ऐसा ही एक रोचक मामला गुरुवार को बागबेड़ा में उस समय देखने को मिला, जब चोरी करने घर में घुसे चोर की जान आफत में फंस गई, फिर तो जो हुआ वह हैरान करने वाला था

मामला बागबेड़ा का

मामला बागबेड़ा हाउसिंग कालोनी के नेहरू मैदान के पास का है। यहां रोड नंबर दो में आरएन मिश्रा रहते हैं। आरएन मिश्रा बुधवार अपने रिश्तेदार के यहां बिष्टुपुर गए थे और रात में वहीं रुक गए। चोरी की ताक में बस्ती में घूम रहे चोरों को घर में ताला लटका नजर आया। चोर धीरे से देर रात घर में घुस गए और हाथ साफ करने लगे। तबतक 3.30 बज गया था। आस पड़ोस की महिलाएं टहलने के लिए निकलने लगी। कुछ महिलाएं बस्ती में फूल तोड़ रही थी।

इसी बीच एक महिला की नजर छत पर गया। छत पर एक लड़का छुपने की कोशिश कर रहा था। पड़ोस की रहने वाली महिला को यह पता था कि आरएन मिश्रा घर पर नहीं है। उनका माथा ठनका। महिलाओं ने तत्काल ही पेट्रोलिंग कर रही पुलिस को इसकी सूचना दी।

पुलिस के आते ही तीन चोर भाग निकले

पुलिस आने की भनक लगते ही तीन चोर तो नौ दो ग्यारह हो गए, लेकिन चौथा घर में फंसा रह गया। मरता क्या न करता। लगा कि अब पकड़ा जाऊंगा। बस क्या था, छत पर पड़े ईंट व पत्थर फेंकना शुरू किया। इस दौरान व पुलिस व स्थानीय लोगों को धमकाना शुरू किया। वह भी पूरी फिल्मी स्टाइल में। अगर आगे बढ़े तो ईंट-पत्थर से हम घायल कर देंगे। आखिर जान की डर किसे नहीं होती है। चोर की हिमाकत देख स्थानीय लोग के साथ पुलिस की भी आगे बढ़ने की हिम्मत नहीं हो रही थी। तीन घंटे बीत चुका था। बागबेड़ा थाने की पूरी पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गई।

हेलमेट पहन चोर को पकड़ने पहुंचेपु

लिस की सुरक्षा में स्थानीय लोगों में कुछ ने हिम्मत जुटाई और हेलमेट पहनकर छत के ऊपर चढ़ने लगे। चोर भी बड़ा जिद्दी निकला। इतनी आसानी से आत्मसर्मपण करने के मूड में नजर नहीं आ रहा था। छत से ईंट फेंक लोगों को मारना शुरू किया। इस दौरान बस्ती के ही रहने वाले संजू के पीठ और पेट पर पत्थर लगी। वह घायल हो गए, लेकिन हिम्मत नहीं हारी। आगे बढ़ता गया और पुलिस के सहयोग से चोर को पकड़ लिया।

स्थानीय लोगों का गुस्सा सातवें स्थान पर था। मौके की नजाकत को समझते हुए पुलिस ने चोर को पकड़ सीधे जीप पर बैठाया और थाने ले आई। चोरी के आरोपित का नाम नेमिया सुरीन है और मनोहरपुर का रहने वाला बताया जा रहा है।

कुछ दिनों पूर्व बागबेड़ा में हुई 10 हजार की चोरी

जानकारी हो कि कुछ दिन पूर्व ही अज्ञात चोरों ने बागबेड़ा हाउसिंग कालोनी स्थित रोड नंबर चार में टीपू पाठक के घर से नगद 10000 रुपये, मोबाइल और कांसा- पीतल के बर्तन चोरी करके भाग गए थे। जिसकी लिखित सूचना बागबेड़ा थाना में भी दी गई थी। मगर अब तक चोर का कुछ भी पता नहीं चला है।

Edited By: Jitendra Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट