जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। टाटा स्टील के वाइस प्रेसीडेंट (रॉ मटेरियल) अरुण मिश्रा ने अपने पद से इस्‍तीफा दे दिया है। निजी कारणों से इस्तीफा देने की बात कही है। हालांकि वे 18 नवम्बर 2019 तक अपने पद पर बने रहेंगे। 

कंपनी प्रबंधन ने उनके स्थान पर एमडी टीवी नरेंद्रन के प्रिंसिपल एक्जीक्यूटिव ऑफिसर (पीईओ) डीबी सुंदर रामम को वाइस प्रेसिडेंट (रॉ मैटेरियल) बनाया है। वहीं, कलिंगनगर (ऑपरेशन) के महाप्रबंधक चैतन्य भानु को एमडी का नया पीईओ बनाया गया है। 

कंपनी प्रबंधन द्वारा जारी सर्कुलर में बताया गया है कि अरुण मिश्रा टाटा समूह के बाहर बेहतर अवसर मिलने के कारण मिश्रा अपने पद से इस्तीफा दे रहे हैं। हालांकि वे 18 नवंबर 2019 तक अपने पद पर बने रहेंगे। वहीं, कंपनी प्रबंधन ने एमडी के पीईओ सुंदर रामम (आइएल-2) को नया वाइस प्रेसिडेंट बनाया है। अब सुंदर रामम सीधे कंपनी के सीईओ सह एमडी टीवी नरेंद्रन को रिपोर्ट करेंगे।

वहीं, कलिंगनगर (ऑपरेशन) के महाप्रबंधक चैतन्य भानु अब कंपनी के सीईओ सह एमडी टीवी नरेंद्रन के प्रिंसिपल एक्जीक्यूटिव ऑफिसर के रूप में काम करेंगे। वहीं, चीफ हॉट स्ट्रीप मिल (कलिंगनगर) कर्मवीर सिंह को महाप्रबंधक (ऑपरेशन) की जिम्मेदारी दी गई है। वे जाजपुर से काम करते हुए वाइस प्रेसिडेंट (ऑपरेशन) को रिपोर्ट करेंगे। 

1990 में टाटा स्टील से जुड़े हैं सुंदररामम

डीबी सुंदर रामम वर्ष 1990 में टाटा स्टील से बतौर ग्रेजुएट ट्रेनी जुड़े थे। इन्होंने एनआइटी राउरकेला से बीएसई इंजीनियरिंग इन माइनिंग की डिग्री हासिल की थी। इसके बाद वर्ष 1999 में एक्सएलआरआइ से जनरल मैनेजमेंट प्रोग्राम व फ्रांस से वर्ष 2010 में सीनियर एक्जीक्यूटिव मैनेजमेंट प्रोग्राम किया। डीबी सुंदर रामम ने रॉ मैटेरियल डिविजन के ऑपरेशन एंड मेंटेनेंस में विभिन्न पदों पर काम किया। इसमें 2010 में  वेस्ट बोकारो में साउथ ईस्ट ब्लॉक चीफ, वर्ष 2013 में महाप्रबंधक (ओएमएंडक्यू), एक्जीक्यूटिव इंचार्ज फेरो एलॉय एंड मिनरल्स डिवीजन में अपनी सेवाएं दी। वर्ष 2017 से सुंदर रामम एमडी के पीईओ पद पर कार्यरत थे। 

1988 में टाटा से जुड़े थे अरुण

आइआइटी खडग़पुर से इलेक्ट्रिकल इंजीनियङ्क्षरग करने के बाद अरुण मिश्रा वर्ष 1988 में टाटा स्टील के झरिया डिवीजन से बतौर ग्रेजुएट ट्रेनी जुड़े। इसके बाद वर्ष 1998 में उन्हें असिस्टेंट डिवीजनल मैनेजर (टेक्निकल), वर्ष 2000 में जामाडोबा वॉशरी का हेड, 2003 में चीफ (कोल बेनीफिकेशन), 2007 में महाप्रबंधक (ओएमक्यू) बनाए गए। वर्ष 2010 से 2012 तक वे प्रिंसिपल एक्जीक्यूटिव ऑफिसर के पद पर भी काम किया।

2012 में उन्हें कलिंगनगर (ऑपरेशन) का वाइस प्रेसिडेंट, 2014 में वाइस प्रेसिडेंट सह प्रबंध निदेशक (गोपालपुर प्रोजेक्ट) बनाया गया। 15 नवंबर 2018 से वे वाइस प्रेसिडेंट (रॉ मैटेरियल) के पद पर कार्यरत थे। इसके अलावा अरुण मिश्रा टाटा स्टील स्पेशल इकोनॉमिक जोन लिमिटेड व टाटा स्टील एलॉय लिमिटेड के चेयरमैन भी थे। 

Posted By: Vikas Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप