जमशेदपुर (जासंं)। वर्ष का अंतिम रविवार हादसों का दिन रहा। टेल्को और जादूगोड़ा-मुसाबनी मार्ग में अलग-अलग हादसों में तीन की मौत हो गई जबकि राष्ट्रीय राजकीय मार्ग संख्या 33 में हुई दुर्घटना में आधा दर्जन से अधिक घायल हो गए। घायलों का इलाज एमजीएम और टाटा मोटर्स अस्पताल में चल रहा है।

टेल्को थाना क्षेत्र जेम्को से गो¨वदपुर जाने वाली मुख्य सड़क में चेसिस यार्ड साउथ गेट के पास रविवार देर शाम खड़ी ट्रक से कार टकरा गई जिससे कार सवार दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें टाटा मोटर्स अस्पताल में दाखिल कराया गया।

जहां बर्मामाइंस कैरेज कॉलोनी निवासी रवि मंडल (35) और परसुडीह बावनगोड़ा के सुजीत कुमार (30) को मृत घोषित कर दिया गया। दोनों के सिर और छाती में गंभीर चोट आई थी। दोनों दोस्त टेल्को से पार्टी मनाकर वापस घर लौट रहे थे। सुजीत कुमार कान्वाई चालक था। रवि मंडल गाड़ी चला रहा था। उसे सुजीत को बावनगोड़ा उसके घर छोड़ना था। उसके बाद वह अपने कैरेज कॉलोनी घर लौटता। उसका ट्रांसपोर्ट का व्यवसाय है।घटना के बाद पुलिस ट्रक और कार को जब्त कर थाना ले गई। दुर्घटना में कार के परखच्चे हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार टक्कर इतनी जोरदार थी कि आवाज सुनकर लोग सहम गए। कार सवार दोनों फंसे रह गए थे। काफी मशक्कत के बाद दोनों को निकाला गया।

जेम्को से जोजोबेड़ा मार्ग पर खड़े भारी वाहनों से होती हैं दुर्घटना

शहर में सड़क दुर्घटना का सबसे बड़ा कारण सड़कों पर वाहनों का कब्जा होना है। बर्मामाइंस से जेम्को, मनीफीट, टेल्को साउथ गेट और जोजोबेड़ा जाने वाली रोड में कतार से वाहन खड़े रहते है। मानगो बस स्टैंड से भुइयांडीह मार्ग और मानगो के डिमना चौक से पारडीह और घाटशिला की ओर जाने वाले एनएच-33 में जहां-तहां वाहन खड़ी कर दी जाती हैं।

पटना का रहने वाला था सुजीत कुमार, किया था प्रेम विवाह

सुजीत कुमार के भाई संदीप कुमार ने वे लोग मूल रूप से पटना के रहने वाले हैं। तीन भाइयों में सुजीत दूसरे नंबर पर था। छोटा भाई और मां पटना में रहते है। संदीप के अनुसार वह और सुजीत बावनगोड़ा नीचे टोला में परिवार के साथ रहते है। सात साल पहले सुजीत ने प्रेम विवाह किया था। उसे पांच वर्ष का एक पुत्र और चार माह की पुत्री है।

अस्पताल में तोड़फोड़ व हंगामा

घटना की जानकारी पर टाटा मोटर्स अस्पताल पहुंचे रवि मंडल के परिजन यह मानने को तैयार नहीं थे कि उसकी मौत हो चुकी है। परिवार वाले उसे दूसरे अस्पताल भिजवाने की मांग पर अड़े रहे। जिसके बाद उसे टीएमएच ले जाया गया। वहां भी चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इससे पहले भी परिजन चिकित्सकों पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाते रहे। हंगामा मचाते रहे। अस्पताल में तोड़फोड़ भी की गई। रवि के परिजनों का आरोप था कि घायल हालत में उसे अस्पताल लाया गया था, लेकिन समय पर उसका इलाज नहीं किया गया। इस कारण उसकी मौत हो गई। परिजन पुलिस से भी उलझ गए। हंगामा देख अस्पताल में क्यूआरटी टीम को तैनात कर दिया गया था।

पिपला में ट्रक ऑटो टकराई, हुरलुंग पुल के पास दो बाइक में टक्कर

एमजीएम थाना क्षेत्र राष्ट्रीय राजकीय मार्ग संख्या 33 पिपला के पास ट्रक और ऑटो में भिडंत हो गई। ऑटो क्षतिग्रस्त हो गया। इसमें सवार चार लोग को घायल हो गए। सभी को एमजीएम अस्पताल में दाखिल कराया गया। हुरलुंग पुल के पास दो बाइक आपस में टकरा गईं। इसमें तीन लोग घायल हो गए।

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस