जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। महात्मा गांधी मेमोरियल (एमजीएम) मेडिकल कॉलेज अस्पताल के दो जूनियर डॉक्टर संदीप कुमार व संतोष कुमार को शोकॉज किया गया है। अधीक्षक डॉ. संजय कुमार ने 48 घंटे के अंदर जवाब तलब किया है।

इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। बीते मंगलवार को मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआइ) की टीम एमजीएम अस्पताल में प्रोस्ट ग्रेजुएशन (पीजी) की पढ़ाई के लिए निरीक्षण करने के लिए आई थी। इस दौरान सभी सीनियर व जूनियर चिकित्सकों की उपस्थिति अनिवार्य था। लेकिन, इसके बावजूद भी डॉ. संतोष व संदीप गायब मिले, जिसपर एमसीआइ ने आपत्ति जताई थी। प्रिंसिपल डॉ. एसी अखौरी व अधीक्षक डॉ. संजय कुमार ने इस मामले को गंभीरता से लिया है।

एमजीएम में दवा लेकर पहुंचा  ट्रक पलटने से बचा, 

महात्मा गांधी मेमोरियल (एमजीएम) मेडिकल कॉलेज अस्पताल में शुक्रवार की देर रात बड़ा हादसा होने से टल गई। मरीजों के लिए स्लाइन लेकर पहुंची ट्रक गड्डे में फंस गई। इससे ट्रक एक तरफ काफी ज्यादा झुकने से पलटने का खतरा बना हुआ था।

ट्रक फंसने की सूचना होमगार्ड के जवानों ने अधीक्षक को दी। उन्होंने तत्काल संबंधित पदाधिकारियों को निर्देश दिया। तब क्रेन को बुलाया गया और उसे बाहर निकाला गया। दरअसल, अस्पताल परिसर में ड्रेनेज सिस्टम का निर्माण चल रहा है। इस वजह से गड्डा खोदकर छोड़ दिया गया है। वहीं कहीं-कहीं पर सही ढंग से गड्डा भरा भी नहीं गया है। इससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।

इधर, शनिवार की सुबह अस्पताल परिसर में दो ट्रक लगी हुई थी। दोनों में स्लाइन भरा हुआ था। उसे उतारने में करीब पांच घंटे का समय लगा। इस दौरान अस्पताल में जाम लगी रही और मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। हलांकि, स्लाइन आ जाने से मरीजों को अब बाहर से नहीं खरीदना पड़ेगा।

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस