जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। CORONA VIRUS कोरोना वायरस के खौफ में ट्रेन चालकों ने बॉयोमीट्रिक अटेंडेंस बनाना बंद कर दिया है। उधर, बड़ी संख्‍या में रेलकर्मी अपने साथ सैनिटाइजर लेकर चलते दिख रहे हैं। किसी तरह के संभावित संक्रमण से बचने के लिए हर संभव उपाय कर रहे हैं।

जानकारी के अनुसार टाटानगर सहित चक्रधरपुर मंडल में करीब साढ़े चार हजार चालक, सह चालक व गार्ड ने बायोमीट्रिक से अटेंडेंस बनाना बंद कर दिया है। इक्‍का-दुक्का चालक ही अब बायोमीट्रिक अपना अटेंडेंस बना रहे हैं। टाटानगर में कार्यरत करीब 325 चालक, सह चालक व गार्ड मैनुअल तरीके से अपना अटेंडेंस रजिस्टर में बना रहे है।

कोरोना वायरस के खौफ के कारण मेंस यूनियन के पदाधिकारियों ने बायोमीट्रिक से अटेंडेंस  बनाने पर रोक लगाने की मांग की थी। जिसके बाद से रेलवे ने भी सख्ती करना बंद कर दिया है। जिसके कारण मेनुअल तरीके से रेलकर्मी अटेंडेंस बना रहे है। 

सैनिटाइजर ले कर चल रहे चालक

कोरोना वायरस का खौफ इस कदर रेलकर्मियों के बीच होने लगा है कि वे सैनिटाइजर लेकर अपने साथ चल रहे है। खासकर चालक, सह चालक व गार्ड द्वारा सैनिटाइजर का इस्तेमाल बार बार कर खुद को सुरक्षित रखने के प्रयास कर रहे हैं।

यहां तक कि बायोमीट्रिक मशीन पर ही एक सैनिटाइजर रखा गया है ताकि अपने हाथ को संक्रमणमुक्‍त करने के बाद बायोमेट्रिक का इस्तेमाल रेलकर्मी कर सके। हालांकि इसके बावजूद बायोमेट्रिक का इस्तेमाल ही चालक नहीं कर रहे हैंं।   

न्यूवोको में बंद होगी बायोमेट्रिक्स हाजिरी

न्यूवोको विस्टॉस कॉर्प जोजोबेडा सीमेंट प्लांट में भी बायोमेट्रिक्स हाजिरी बंद होगी। यहां भी पूर्व की तरह आई कार्ड से पंचिंग हाजिरी बनायी जाएगी। इसे लेकर कंपनी के एक अधिकारी द्वारा कंपनी के एमडी समेत तमाम अधिकारियों को मेल भेजा गया है। फि लहाल जेसीपी के वाईस प्रेसिडेंट शहर से बाहर हैं। शहर लौटने पर इस पर निर्णय लिया जा सकता है।

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस