जमशेदपुर (जेएनएन)। देशव्‍यापी लॉकडाउन के चलते फंसे जापान के सात नागरिकों को विशेष विमान से नई दिलली ले जाया गया। विदेश व दूसरे प्रदेशों से आनेवालों को ढूंढ-ढूंढकर पुलिस पकड़ रही है। लॉकडाउन में जरूरतमंदों की सेवा करने के लिए व्‍यक्ति व संस्‍थानों में होड़ लगी हुई है। टाटा ट्रस्ट से संचालित इंडियन हेल्थ फंड की मोल्बियो डायग्नोस्टिक्स प्राइवेट लिमिटेड ने एक टेस्ट किट टूनेटा बीटा कोव तैयार किया है।  

सात जापानियों को ले विशेष विमान ने भरी उड़ान  

देशव्‍यापी लॉकडाउन को लेकर बंद चल रहीं यात्री सुविधाओं के कारण फंसे जापान के नागरिकों को आखिर राहत मिल गई। अब वे अपने देश पहुंच सकेंगे। विशेष विमान ने सात जापानी नागरिकों को लेकर नई दिल्‍ली के लिए उड़ान भरी। भारत सरकार के विदेश मंत्रालय व पूर्वी सिंहभूम जिला प्रशासन की मदद से जापानियों को वापस उनके देश भिजवाने के इंतजाम किए गए हैं। ये सभी पिछले सात माह से टाटा स्टील व निपोन की संयुक्त उपक्रम, जमशेदपुर कंटीन्युअस एनीलिंग एंड प्रोसेस कंपनी प्राइवेट लिमिटेड (जेसीएपीसीपीएल) में कार्य कर रहे थे। जापान सरकार ने भारत सरकार से इन नागरिकों को जापान भेजने के लिए आग्रह किया था। मंगलवार को सोनारी एयरपोर्ट से विशेष विमान से जापानियों को नई दिल्ली भेजा गया। दिल्‍ली से ये जापान जाएंगे। सभी जापानियों को भेजने से पहले उनके मेडिकल जांच हुई।

विदेश और परदेस से आनेवालों को ढूंढ रही पुलिस

विदेश और दूसरे प्रदेश से आए लोगों को जमशेदपुर के कदमा में ठहराया जा रहा है। इसके लिए कदमा थाना के बगल मे चार मंजिला फ्लैट को खाली कराया गया है। इस फ़लैट में बाहर से आए 40 लोगों को अबतक क्वारंटाइन में रखा जा चुका है। ये वो लोग हैं जो बाहर से आने के बाद प्रशासन को सूचना दिए बगैर अपने घरों में ही थे। गांव के मुखिया व अन्य सूत्रों से जब पुलिस को सूचना मिलने पर इन्‍हें घरों से निकालकर लाया गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम इनके नमूने लेकर जांच के लिए महात्मा गांधी मेमोरियल (एमजीएम) मेडिकल कॉलेज के वायरोलॉजी लैब में भेज रही है। अबतक 19 लोगों का नमूना लिया जा चुका है। मंगलवार को जिलेभर से 50 और कोरोना संदिग्ध को लाने की बात कही जा रही है। उनको अगले 14 दिनों तक क्‍वारंटाइन रखा जाएगा।

सेवा की मची होड़, कोई बांट रहा अनाज तो कोई पका-पकाया भोजन 

वैश्विक संकट बनकर सामने खड़े कोरोना वायरस से बचाव के लिए लॉकडाउन के बीच जरूरतंदों की सेवा के लिए होड़ भी मची है। जमशेदपुर की नामदा बस्‍ती में मंगलवार को समाजसेवी श्रीराम दूबे की ओर से पका भोजन का वितरण किया गया। कुटलूडीह आजीविका महिला ग्राम संगठन की महिला सदस्‍य  गांव में जाकर भोजन तैयार कर ग्रामीणों को खिला रही हैं। वहीं पूर्वी सिंहभूम के घाटशिला इलाके में  समाजसेवी शेख असरफ भोलू और टिंकू ने की जरूरतमंद को खाद्य सामग्री देकर मदद।

कोरोना वायरस की अब मात्र 1350 रुपये व एक घंटे में होगी जांच

टाटा ट्रस्ट से संचालित इंडियन हेल्थ फंड की मोल्बियो डायग्नोस्टिक्स प्राइवेट लिमिटेड ने एक टेस्ट किट टूनेटा बीटा कोव तैयार किया है। इससे कोविड-19 (कोरोना वायरस) रोगी की जांच रिपोर्ट केवल एक घंटे में आ जाएगी। जांच में मात्र 1350 रुपये ही खर्च आएगा। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आइसीएमआर) ने इस टेस्टिंग किट को मान्यता भी प्रदान कर दी है। कोविड-19 संक्रमित के ब्लड जांच रिपोर्ट आने में न्यूनतम आठ घंटे लग जाते हैं। निजी लैब में इस जांच पर 4500 रुपये खर्च आता है। टाटा ट्रस्ट की इंडियन हेल्थ फंड ने अपने किट से राहत मिली है। मोल्बियो डायग्नोस्टिक प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य तकनीकी अधिकारी डॉ. चंद्रशेखर नायर के अनुसार यह किट समय की जरूरत है। इसकी मदद से कोविड 19 की महामारी को नियंत्रित करने में भी मदद मिलेगी। 

 

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस