जमशेदपुर, जासं। Coronavirus Alert  देश में तेजी से बढ़  रही  कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या चिंता का विषय है। इसे लेकर झारखंड के राज्य सर्विलांस विभाग ने जिला स्वास्थ्य विभाग को तीन हजार लोगों की सूची भेजी है। ये सभी दूसरे देश व प्रदेशों से आए हुए लोग हैं। इन सबकी स्थिति से विभाग को अवगत कराना है ताकि आगे की कार्रवाई की जा सके।

 राज्य सर्विलांस विभाग द्वारा भेजे गए पत्र में पूछा गया है कि बाहर से आए  हुए लोगों के लिए  क्वारंटाइन का पालन किया गया, अगर नहीं किया तो क्यों? उसकी सूची भी मांगी  है। इधर, सिविल सर्जन ने सूची को थाना क्षेत्र के हिसाब  से तैनात पदाधिकारियों को उपलब्ध करा दिया है ताकि उनकी अपडेट जानकारी विभाग को भेजी जा सके। मालूम हो कि पूर्वी सिंहभूम जिले में कुल 12 हजार से अधिक लोग विदेश व प्रदेशों से आए हैं, लेकिन वह छुपे हुए हैं। वह आगे आकर जांच नहीं करा रहे हैं। इससे वायरस के तेजी से फैलने का खतरा बना हुआ है।

ये कहते हैं डॉक्‍टर

वैश्विक महामारी बन चुका कोरोना वायरस भारत में तेजी से फैल रहा है। झारखंड में भी एक दिन में नौ पॉजिटव मरीज मिलना व एक की मौत होना चिंता का विषय है। लोगों को जागरूक होने की जरूरत है। यह वायरस तेजी से फैलता है। लॉकडाउन का पालन सख्ती से होना चाहिए। अभी देखा जा रहा है कि लोग जहां-तहां भीड़ लगा दे रहे हैं। ऐसा नहीं होना चाहिए। इससे संक्रमण फैलने का खतरा काफी अधिक है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार, इस महामारी के प्रसार को रोकने की दिशा में सबसे अहम कारक इसकी शुरुआती पहचान है। सबसे पहली और जरूरी बात जो आपको ध्यान रखना चाहिए वह यह कि डरें नहीं। डरना किसी भी चीज का हल नहीं। न ही हर किसी को शक की नजर से देखें। आपको जरूरत है पूरी जानकारी पाने की। कोरोना वायरस के लक्षणों को समझना जरूरी है। यह वायरस इंसान के किडनी को नुकसान पहुंचा सकता है। कोरोना के लक्षण में जुकाम, गले में दर्द, सांस लेने में दिक्कत, खांसी, बुखार जैसे लक्षण दिखते हैं। कोरोना ज्यादा भीड़-भाड़ वाले क्षेत्र में तेजी से फैलता है। इसलिए एक जगह पर ज्यादा लोगों को इक्ट्ठा नहीं होना चाहिए।

-डॉ. मृत्युंजय सिंह, सचिव, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन।

 

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस