जमशेदपुर (जासं) । बिरसानगर निवासी नाबालिग के साथ बुधवार को घोड़ाबांधा के थीम पार्क में हुए सामूहिक दुष्कर्म का मामला राज्य पुलिस मुख्यालय सहित राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग तक पहुंच गया है। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता कुणाल षाड़ंगी ने मामले की जानकारी ट्विटर के माध्यम से केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष प्रियंका कानूनगो तक पहुंचा दी है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से भी नाबालिग पीडि़ता को न्याय दिलाने की अपील की है। कहा कि झारखंड में राज्य बाल आयोग निष्क्रिय है, ऐसे में राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग से उन्होंने हस्तक्षेप कर पीडि़ता को न्याय सुलभ कराने का आग्रह किया।

 

बता दें कि घोड़ाबांधा थीम पार्क में गैंग रेप की यह दूसरी बड़ी घटना है। इससे पूर्व वर्ष 2011 में घूमने आए एक दंपती से मारपीट कर महिला से दुष्कर्म किया था। इसपर ङ्क्षचता जाहिर करते हुए कुणाल षाड़ंगी ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और राज्य पुलिस महानिदेशक से सूबे में सार्वजनिक स्थानों सहित सभी पार्कों की सेफ्टी व सिक्युरिटी ऑडिट कराने का सुझाव दिया है, ताकि ऐसी घटनाओं पर अंकुश लग सके। 

इधर, कुणाल षाड़ंगी के ट्वीट पर राज्य पुलिस मुख्यालय ने संज्ञान लिया है। प्रभारी डीजीपी एमवी राव के निर्देश पर पुलिस मुख्यालय ने जमशेदपुर के एसएसपी को इस मामले में अविलंब कठोरतम कार्रवाई का निर्देश दिया है। वहीं जमशेदपुर पुलिस की ओर से जानकारी दी गई कि मामले में शामिल चार अभियुक्तों की गिरफ्तारी कर ली गई है, जिनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई होगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस