जासं, जमशेदपुर । लगातार हो रही बारिश के बावजूद सोमवार को दक्षिण- पूर्व रेलवे की महाप्रबंधक अर्चना जोशी ने टाटानगर स्टेशन का निरीक्षण किया। तय समय के घंटों पूर्व रविवार की रात्रि 2.13 बजे जीएम की स्पेशल ट्रेन टाटानगर स्टेशन पहुंची। सोमवार सुबह 8.30 बजे चक्रधरपुर मंडल के डीआरएम विजय कुमार साहू समेत हर विभाग के आला अधिकारियों के साथ जीएम टाटानगर स्टेशन को बर्मामाइंस जोड़ने वाली फूटओवर ब्रिज का जायजा लेने पहुंची। उन्होंने जनवरी 2022 तक हर हाल में सेकेंड इंट्री गेट का कार्य पूरा करने का आदेश दिया।

पार्सल, गार्ड लॉबी, प्लेटफार्म का जायजा लेने के बाद रेलवे पार्किंग पहुंची। पार्किंग में रखे वाहन ना भींगे इसके लिए उन्होंने पूरे पार्किंग एरिया में शेड लगाने का निर्देश दिया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने मंडल के आधिकारियों को यात्रि सुविधाओं पर विशेष ध्यान देने की बात कही। उन्होंने कहा कि रेल यात्रियों की सुविधा में किसी तरह की कटौती वह बर्दाश्त नहीं करेंगी। टाटानगर स्टेशन के निरीक्षण के बाद वह हल्दीपोखर के लिए रवाना हो गई।

जनवरी 2022 तक पूरा होगा सेकेंड इंट्री गेट का कार्य

वर्षों से अधूरा पड़ा टाटानगर सेकेंड इंट्री गेट के कार्य ने रफ्तार पकड़ लिया। रेलवे की जीएम ने जनवरी 2022 तक हर हाल में एफओबी का कार्य पूरा कर सेकेंड इंट्री गेट खोलने का निर्देश दिया। इस गेट के खुल जाने से टाटानगर स्टेशन के मेन गेट पर लोड काफी हद तक कम हो जाएगा। बर्मामाइंस, टेल्को, बारीडीह, गोलमुरी, साकची समेत अन्य इलाकों में रहने वालों को काफी सहूलियत तो होगी ही, ओबर ब्रिज पर लोड भी कम हो जाएगा।

पार्किंग में लगेगा शेड

यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए रेलवे जल्द ही टाटानगर पार्किंग में शेड लगाएगा। टाटानगर स्टेशन के निरीक्षण के दौरान जीएम ने शेड लगाने के लिए मंडल के अधिकारियों को निर्देश दिया। शेड लगाने के लिए जल्द ही मंडल की ओर टेंडर निकाला जाएगा।

टाटा से हल्दीपोखर होते हुए पुरी तक होगा शार्टकट रेल मार्ग

हल्दीपोखर हॉल्ट का जायजा लेने पहुंची दपू रेलवे की जीएम ने स्टेशन को मॉडल लुक देने की बात कही। उन्होंने कहा कि टाटा से हल्दीपोखर होते हुए पुरी तक शार्टकट रेल मार्ग बनाने की योजना पर कार्य चल रहा है। इसके लिए पहले रेल लाइन का दोहरीकरण करना होगा। अगर इस योजना का कार्य आरंभ हुआ तो कई बस्तियों इसके जद में आएंगी।

नहीं खुलेगा पार्सल गेट

टाटानगर स्टेशन पर पत्रकारों से बातचीत के दौरान जीएम ने कहा कि स्टेशन की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बंद पार्सल गेट को नहीं खुलेगा। स्टेशन से बाहर निकलने के लिए कई गेट मौजूद है। रेलवे में भ्रष्टचार के संबंध में सवाल पूछे जाने पर जीएम ने कहा कि विजलेंस के अलावा रेलवे की कई एजेंसी इस कार्य में लगी हुई है। समय-समय पर जांच अभियान चलाया जाता है। रेलवे के क्वाटर पर अवैध कब्जे के संबंध में जीएम ने कहा कि शिकायत मिली है।

Edited By: Rakesh Ranjan