जमशेदपुर, जासं। भारतीय बाजार में आई आर्थिक मंदी का असर टाटा स्टील समूह के वित्तीय आंकड़ों पर भी पड़ा है। टाटा स्टील ने बुधवार को 2019-20 के पहली तिमाही (अप्रैल, मई व जून) की वित्तीय रिपोर्ट साझा किया है।कंपनी प्रबंधन द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार 2019 की पहली तिमाही में कंपनी ने 1856 करोड़ जबकि चौथी तिमाही में 2309 करोड़ रुपये का मुनाफा अर्जित किया था जो चालू वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में घटकर 1567 करोड़ रुपये हो गया है। 

समेकित रूप से कंपनी ने बीते वित्तीय वर्ष की अंतिम तिमाही में 2295 करोड़ रुपये मुनाफा किया था जो चालू वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में घटकर 702 करोड़ रुपये हो गया है। भारतीय परिचालन में टर्नओवर में ज्यादा अंतर नहीं आया है। 2019 की अंतिम तिमाही में कंपनी ने 4.49 मिलियन टन के मुकाबले चालू वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में 4.50 मिलियन का उत्पादन किया है लेकिन डिलीवरी चौथी तिमाही के 4.72 मिलियन टन से घटकर 3.96 मिलियन टन तक ही सीमित रही। टर्नओवर भी चौथी तिमाही में 24,901 करोड़ से घटकर 21,129 करोड़ रुपये ही रही।

ऑटो सेक्टर में कमजोरी का असर

भारतीय बाजार में आए उतार चढ़ाव का असर पूरे स्टील इंडस्ट्री पर पड़ा है। इसके कारण उनके मुनाफे में कमी आई है। हालांकि भारत की मजबूत व्यापार मॉडल के कारण हमने नए ग्राहक जोड़ने का मौका मिला लेकिन ऑटो सेक्टर की कमजोर का असर पड़ा है। हमारा पूरा फोकस परिचालन उत्कृष्टता को बनाए रखने व मार्जिन बढ़ाने की ओर है। फिलहाल हम टाटा स्टील बीएसएल विलय व कलिंगानगर में पांच मिलियन टन के दूसरे चरण के विस्तार पर फोकस कर भारतीय ऑपरेशन को मजबूत कर रहे हैं। हमारा उद्देश्य क्वालिटी में सुधार करते हुए उत्पादन लागत को कम करना है। साथ ही टाटा स्पंज के एक मिलियन टन प्रति वर्ष स्टील उत्पादन के एकीकरण व रैम्प अप पर केंद्रित कर रहे हैं।

-टीवी नरेंद्रन, सीईओ सह एमडी, टाटा स्टील

यूरोपियन संचालन भी हुआ प्रभावित

कंपनी प्रबंधन का मानना है कि प्लांट शट डाउन और बाहरी दबाव के कारण स्टील की मांग सुस्त रही। हालांकि कंपनी द्वारा तीन नए प्रोडक्ट की लांचिंग के बाद बिक्री में 39 प्रतिशत की उछाल रही लेकिन डिमांड कम होने से पहली तिमाही में राजस्व 14,495 करोड़ रुपये ही रहा।

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rakesh Ranjan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप