जमशेदपुर, जासं। टाटा स्टील के आइटी (इंफोर्मेशन टेक्नोलॉजी) मैनेजर साकेत सिन्हा को जान बचाने का इनाम मिला। एसएसपी अनूप बिरथरे ने अपने कार्यालय में बुलाकर उन्हें प्रशस्ति पत्र के साथ हौसला बढ़ाया। साथ ही शुभकामनाएं भी दी।

24 सितंबर को सुबह 7 बजे कॉन्वेंट स्कूल, बिष्टुपुर के पास स्कूल वाहन (टेंपो) के पलट जाने से उसमें सवार दो स्कूली छात्र एवं एक शिक्षिका जख्मी हो गए। घटना के समय साकेत सिन्हा वहीं से गुजर रहे थे। सम्मान पत्र में लिखा है कि आपने एक सजग एवं जागरूक नागरिक होने का परिचय देते हुए उक्त दोनों घायल बच्चों को इलाज हेतु टीएमएच में भर्ती कराया गया था एवं दोनों बच्चों के परिजनों को भी सूचित किया गया, इसके लिए आप प्रशंसा के पात्र है। आपका उक्त कार्य अत्यंत प्रशंसनीय है। आशा की जाती है कि भविष्य में भी इसी समर्पित भावना से आप एक सजग एवं जागरूक नागरिक के रूप में कर्तव्यों का निर्वहन करते रहेंगे।

खुद मेडिकल चार्ज देकर अस्पताल में कराया भर्ती

साकेत सिन्हा ने बताया कि 24 सिंतबर की सुबह सात बजे जब घटना घटी तो वह उसी रास्ते से गुजर रहे थे। जैसे ही उनकी नजर बच्चों पर पड़ी, कार वाले को रुकने का इशारा किया। उन्होंने बिना देरी किए सभी घायलों को टेंपो से बाहर निकाला और सीधा टीएमएच अस्पताल लेकर गए। अस्पताल में खुद ही मेडिकल चार्ज देकर बच्चों को भर्ती कराया। बाद में साकेत सिन्हा ने घायलों के परिजनों को इसकी सूचना दी। 

एसएसपी को पता चला तो की प्रशंसा

साकेत सिन्हा की मानवता व तत्परता के बारे में जैसे ही एसएसपी अनूप बिरथरे को पता चला, उन्होंने उनके सदप्रयास की भूरि-भूरि प्रशंसा की थी। साकेत सिन्हा आदित्यपुर स्थित शिवा नर्सिंग होम के समीप रहते हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस