जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : टाटा स्टील में कार्यरत सभी कर्मचारियों के दो बच्चों को नर्सरी से 12वीं तक प्रतिमाह 1200 रुपये शिक्षा भत्ता मिलेगा। अब तक कंपनी द्वारा संचालित स्कूलों में ही पढ़ाई करने पर 350 रुपये मिलते थे। लेकिन अब बच्चे किसी भी स्कूल में पढ़ते हो, उन्हें नए ग्रेड रिवीजन समझौते के तहत शिक्षा भत्ता मिलेगा। टाटा स्टील में स्टील ग्रेड व एनएस ग्रेड में कुल मिलाकर लगभग 13 हजार 500 कर्मचारी कार्यरत हैं। 300 रुपये मिलेगा मोबाइल व इंटरनेट भत्ता

टाटा स्टील में पहली बार कर्मचारियों को मोबाइल व इंटरनेट के लिए भी प्रतिमाह 300 रुपये का भत्ता मिलेगा। नई व्यवस्था के तहत कंपनी में बढ़ते डिजिटलाइजेशन को देखते हुए कर्मचारियों के लिए यह नया भत्ता शुरू किया गया है जो पहली जनवरी 2018 से ही प्रभावी होगा। स्टील वेज के वेतन में बढ़ोतरी

---------------------

एमजीबी : 12.75 प्रतिशत उनके बेसिक व डीए का

औसतन एमजीबी : 11,024 रुपये

स्पेन : 20 कर्मचारियों के इंक्रीमेंट में हुई बढ़ोतरी

टाटा स्टील कर्मचारियों को मिलने वाले तीन प्रतिशत के इंक्रीमेंट की दर में भी बढ़ोतरी हुई है। कर्मचारियों को अब न्यूनतम एस-1 ग्रेड में अब 872 रुपये के बजाए 1423 रुपये जबकि सुपरवाइजरी वी-20 ग्रेड में 1576 रुपये के बजाए 2572 रुपये मिलेंगे। कर्मचारियों को मिलने वाले भत्ते -एक्टिंग एलाउंस में बढ़ोतरी

-व्हीकल रख-रखाव भत्ता अब 35 रुपये की जगह 45 रुपये मिलेगा प्रतिमाह।

-यूटिलिटी एलाउंस 450 रुपये के बदले मिलेंगे 550 रुपये।

-नाइट शिफ्ट एलाउंस 125 रुपये की जगह मिलेंगे 160 रुपये।

-सिक्योरिटी व फायर बिग्रेड कर्मचारियों के भत्तों में भी बढ़ोतरी

-रेफरल केस में कर्मचारियों को मेंटनेंस व उपस्थिति एलाउंस भी मिलेगा।

-नर्सिग कर्मचारियों को धुलाई भत्ता मिलेगा।

-शावक नानावटी टेक्नीकल इंस्टीट्यूट (एसएनटीआइ) के सीनियर इंस्ट्रक्टर व इंस्ट्रक्टर को मिलेगा स्पेशल एलाउंस।

-कर्मचारी अगर कंपनी व्यापार में स्थानीय कोर्ट या सरकारी कार्यालय भी जाते हैं तो उन्हें वाहन भत्ता मिलेगा।

-कर्मचारियों को एविएशन भत्ता मिलेगा।

-एक्जीक्यूटिव प्रोटेक्शन भत्ता मिलेगा। कर्मचारियों के मेडिकल चार्ज में होगा बदलाव

टाटा स्टील कर्मचारियों को टाटा मेन हॉस्पिटल (टीएमएच) में लगने वाले मेडिकल चार्ज में भी अगले तीन से छह माह में बढ़ोतरी हो सकती है। कंपनी प्रबंधन और टाटा वर्कर्स यूनियन नेतृत्व ने इस पर सहमति जाहिर की है। वहीं, कर्मचारियों के सोशल सिक्योरिटी स्कीम, यूनीफार्म ग्रेड स्ट्रक्चर, इंसेटिव बोनस स्कीम व जिन कर्मचारियों के व‌र्ल्ड क्लास मेंटनेंस (डब्ल्यूसीएम) में सुविधाओं का लाभ नहीं मिल रहा है, उसमें बदलाव होगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप