जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। Suspected corona effected found in Baridih  देश में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहा है। शुक्रवार को जमशेदपुर के बारीडीह में भी एक संदिग्ध कोरोना पीडि़त मिलने की सूचना से हड़कंप मच गया। जिला सर्विलांस विभाग ने उसका नमूना संग्रह कर जांच के लिए महात्मा गांधी मेमोरियल (एमजीएम) मेडिकल कॉलेज स्थित माइक्रोबायोलॉजी विभाग के वायरोलॉजी लैब भेजा है। यह व्‍यक्ति एक दिन पूर्व गुरुवार की सुबह मलेशिया से जमशेदपुर लौटा है।

उसे खांसी व तेज बुखार की शिकायत है। कोरोना वायरस का यह प्रमुख लक्षण माना जाता है। मरीज को फिलहाल घर में ही आइसोलेट कर रखा गया है। उसपर स्वास्थ्य विभाग की ओर से सतत निगरानी की जा रही है। स्थिति गंभीर होते ही उसे अस्पताल में भर्ती कराने की तैयारी है।

वहीं रांची स्थित रिम्‍स से दो संदिग्ध मरीजों का नमूना जांच के लिए एमजीएम अस्‍पताल लाया गया है। शनिवार को तीनों मरीजों की जांच रिपोर्ट आने की उम्मीद जताई गई है। कोरोना वायरस की जांच की सुविधा एक दिन पहले ही एमजीएम अस्‍पताल में शुरू की गई है। जांच के लिए दिल्ली से किट मंगाया गया है। अबतक नमूने की जांच के लिए कोलकाता या फिर बेंगलुरू भेजना पड़ता था। कोलकाता या बेंगलूरू से जांच की रिपोर्ट आने में लगभग एक सप्ताह का समय लगता था। हालांकि, झारखंड में अभी एक भी कोरोना से ग्रस्त मरीजों की पुष्टि नहीं हुई है।

सात देशों से आने वाले लोगों पर विशेष नजर

स्वास्थ्य विभाग की तरफ से भारत में चीन सहित सात देशों से आने वाले लोगों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इसमें जापान, इटली, इंडोनेशिया, मलेशिया, कोरिया सहित अन्य शामिल है। यहां से आने वाले लोगों को अगले 28 दिन तक घरों में ही रहने की सलाह दी जा रही है।

वहीं अगले 14 दिन के अंदर उन्हें तेज बुखार, सुखी खांसी, सांस लेने में परेशानी हो तो यह गंभीर मामला हो सकता है। ऐसे लोगों को आइसोलेट कर रखना है। स्थिति गंभीर होने पर उसे किसी अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया जा सकता है।

एमजीएम में 10 बेड का बना आइसोलेशन वार्ड

कोरोना वायरस को लेकर एमजीएम अस्पताल के मेडिकल वार्ड में दस बेड का आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। इसके अलावे टाटा मुख्य अस्पताल, टाटा मोटर्स, टिनप्लेट, ब्रह़मानंद अस्‍पताल, मेडिका सहित अन्य निजी नर्सिंग होम में भी वार्ड बनाया गया है। ताकि अगर महामारी फैला तो उससे निपटा जा सके। एमजीएम में दस बेड का आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। 

विदेश से जमशेदपुर आए लोगों से संपर्क करने में जुटा विभाग

बीते तीन दिनों के अंदर जमशेदपुर में विदेशों से 30 नए लोग आए है। इसकी सूची जिला स्वास्थ्य विभाग को उपलब्ध करायी गई है। उससे संपर्क करने में विभाग दिन-रात जुटा हुआ है। ताकि उनपर नजर अगले 28 दिन तक नजर रखा जा सके। कोरोना वायरस की वजह से ये लोग नौकरी व पढ़ाई बीच में ही छोड़कर वापस शहर लौट गए है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोना को महामारी घोषित कर दिया है। पूर्वी सिंहभूम जिले में जनवरी से लेकर अबतक कुल 92 लोग आ चुके है।

कोरोना वायरस को लेकर लैब तैयार है। संदिग्ध मरीजों का नमूना आना शुरू हो गया है। इसे लेकर हमारी टीम तैयार है। नमूनों की जांच कर रिपोर्ट जल्द से जल्द उपलब्ध कराया जाएगा। डॉ. पीके बारला, प्रिंसिपल, एमजीएम मेडिकल कॉलेज।

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस