जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। कोरोना संकट के बीच गोविंदपुर स्टील स्ट्रिप्स व्हील्स कंपनी के सुपरवाइजरों, प्रबंधकों व इंंजीनियरों की नौकरी पर तलवार लटकी हुई है। प्रबंधन ने इन अधिकारियों को नौकरी से हटाने की सूची तैयार की है।

इसमें कइयों ने इस्तीफे पत्र पर हस्ताक्षर भी कर दिए हैं तो कई पर दबाव बनाया जा रहा है। लॉकडाउन की वजह से कंपनी बंद है। ऐसे में इसकी वित्तीय स्थिति कमजोर हो गई है। प्रबंधन अपने लागत नियंत्रण के क्रम में कुछ अधिकारियों को छंटनी करने वाला है। उसका कहना है कि कंपनी पहले मंदी की दौर से गुजरी। पिछले छह माह से ब्लॉक-क्लोजर चल रहा था। इधर कोरोना का कहर कंपनी व कर्मचारियों की झकझोर कर रख दिया है।

दो से छह साल तक दी कंपनी में योगदान

जिन अधिकारियों पर गाज गिराने की तैयारी है। उसमें दो से छह साल तक कंपनी में योगदान देने वाले अधिकारी शामिल है। इनकी संख्या करीब 69 है।

विधायक व डीसी से लगायेंगे गुहार

कर्मचारियों को फोन कर उन्हें कंपनी की ओर से बुलाया जा रहा है। एक सुपरवाइजर ने बताया कि छटनी की सूची तैयार कर ली गई है। इसके बाद क्रमवार उन्हें बुलाया जा रहा है। इसे लेकर रविवार को विधायक मंगल कालिंदी तो सोमवार को डीसी-डीएलसी से मिलकर न्याय की गुहार लगाई जायेगी। सूबे के सीएम व देश के पीएम को ट्वीट कर स्थिति से उन्हें अवगत कराया गया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021