जमशेदपुर,जासं। Coronavirus Alert शब-ए- बरात  गुरुवार की रात यानी नौ अप्रैल को मनाया जाएगा। इसे लेकर उलेमाओं ने लोगों से घरों में ही इबादत करने और लॉकडाउन के दौरान बाहर न निकलने की अपील की है। उलमाओं ने लोगों से कहा है कि मस्जिदें बंद रहेंगी। वहीं कब्रिस्तान भी बंद रहेंगे। इसलिए लोग अपने घरों में ही इबादत करें। साथ ही इबादत की इस रात कोरोना महामारी के जड़ से खत्म होने की दुआ करने की अपील की है।

मदीना मस्जिद के पेश इमाम मौलाना अब्दुल मालिक ने कहा कि कोरोना महामारी को देखते हुए लोग एहतियात बरतें। शबे बारात की रात बिल्कुल बाहर ना निकलें। ये इबादत की रात है। कब्रिस्तान पर जाना जरूरी नहीं है। घर से ही अपने मरहूम को यह ईसाले सवाब करें। इदारा-ए-शरिया के शहर काजी सऊद अहमद कासमी ने भी लोगों से घरों में रह कर इबादत करने की अपील की है। उन्होंने लोगों से कहा है कि इस पाक रात में लोगों को अपने घरों में नफिल व तहज्जुद की नमाजें अदा करने और सलातुत्तसबीह पढ़ने को कहा। साथ ही कुरआन की तिलावत करने सूरा ए यासीन पढ़ने व अपने मरहूमीन के लिए ईसाल ए सवाब करने की बात कही।

मदरसा फैजुल उलूम

मदरसा फैजुल उलूम के महासचिव मो बेलाल नासिर और कादरी मस्जिद के खातिब व इमाम काजी मुश्ताक अहमद ने भी यही अपील की है। दोनों ने कहा कि इस रात दुआएं कुबूल होती हैं। ये इबादत की रात है। इस रात को इबादत करने वाले की मगफेरत होती है। इसलिए इबादत के साथ ही कुरआन पाक की तिलावत करें। दुआ करें कि कोरोना की बीमारी दुनिया से खत्म हो जाए। लोगों को इससे निजात मिले। धतकीडीह कब्रिस्तान कमेटी के महासिचव फरीदुद्दीन खान ने पहले ही कब्रिस्तान बंद रहने का ऐलान कर दिया था। कमेटी का कहना है कि कब्रिस्तान सिर्फ जनाजा दफन करने के लिए ही खोला जाएगा। इसी तरह जाकिर नगर कब्रिस्तान, मानगो कब्रिस्तान और साकची कब्रिस्तान भी शबे बारात के दिन बंद रहेंगे।

शिया मुसलमानों ने बुधवार रात मनाई शबे बरात

उधर, शिया मुसलमानों ने बुधवार की रात को शबे बारात मनाई। लोगों ने घरों में इबादत की। साथ ही शबे बारात को लेकर खास दुआएं भी कीं। 15 शाबान की सुबह इमाम महदी अलैहिस्सलाम की विलादत की तारीख है। इस हवाले से शिया मुसलमान खुशी मनाते हैं। इस साल कोरोना लॉकडाउन की वजह से महफिल नहीं हुई। लेकिन, फेसबुक पर ऑनलाइन महफिल का आयोजन किया गया। लोगों ने घरों से ही फेसबुक पर ऑनलाइन महफिल सुनीं और इमाम अस्न की शान में कसीदे सुने।

 

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस