जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। कोल्हान विश्वविद्यालय के मुख्यालय चाईबासा में कुलपति प्रोफेसर डॉ. शुक्ला माहांती की अध्यक्षता में बुधवार को पे फिक्शेसन कमेटी की बैठक आयोजित हुई। इसमें उच्च शिक्षा विभाग द्वारा अनुमोदित सांतवें वेतनमान निर्धारण के प्रस्ताव को विश्वविद्यालय ने भी अनुमोदित कर दिया। अब इसके बाद इस आधार पर नवंबर का वेतन भेजा जाएगा।

सातवां वेतनमान का निर्धारण होने से शिक्षकों के मासिक वेतनमान में 15-20 हजार रुपये की बढ़ोत्तरी होगी। यह बढ़ोत्तरी वर्ष 2016 से लागू होगी। नवंबर माह का वेतन सातवें वेतनमान के आधार पर मिलेगा। इस कारण एक-एक शिक्षक को 5 से 10 लाख रुपये की एकमुश्त राशि एरियर के रूप में मिलेगी। एरियर में 30 प्रतिशत टैक्स भी कटेगा। इस बैठक में कुलपति के अलावा रजिस्ट्रार डॉ. एसएन सिंह, वित्त सलाहकार मधूसूदन, कुलानुशासक डॉ. एके झा, वित्त पदाधिकारी डॉ. सुधांशु कुमार, डीन डॉ. एसपी मंडल, डॉ. रवींद्र सिंह, डॉ. प्रभा खलको उपस्थित थे। 

दो माह के अंदर पीएचडी का निबंधन कराने का आदेश

कोल्हान विश्वविद्यालय की कुलपति प्रोफेसर डॉ शुक्ला माहांती ने बुधवार को सभी डीन को निर्देश दिया कि वे पीएचडी का रजिस्ट्रेशन दो माह के अंदर पूरा कर लें। उन्होंने वेतन निर्धारण समिति की बैठक के दौरान यह निर्देश दिया। कुलपति ने कहा कि डीआरसी के दो महीने के भीतर पीजीआरसी का कार्य समाप्त हो जाए, ताकि निबंधन की संचिका को आगे बढ़ाया जा सके। ऐसा करने पर शोधार्थियों का समय बचेगा और समय से शोध कार्य हो सकेंगे। 

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस