संसू, मुसाबनी : मुसाबनी थाना में नवनियुक्त थाना प्रभारी राजा दिलावर ने सोमवार को मुसाबनी बाजार का निरीक्षण किया। इस अवसर पर उन्होंने सुरक्षा व्यवस्था को लेकर दुकानदारों से बातचीत कर जानकारी लिया। थाना प्रभारी ने बाजार समिति के अध्यक्ष सरदार राजू सिंह के साथ बाजार क्षेत्र में सुरक्षा के दृष्टिकोण को देखते हुए सीसीटीवी कैमरा लगाने को लेकर चर्चा किया और कैमरा लगाने की जगह को चिन्हित किया गया। उन्होंने कहा कि मुसाबनी बाजार क्षेत्र की सुरक्षा मेरे लिए प्राथमिकता में है। इसलिए पूरे बाजार परिसर में कैमरा लगाने को लेकर जल्द ही कार्य प्रारंभ किया जाएगा। उन्होंने इस अवसर पर बाजार परिसर के चौकीदारों से भी कई जानकारियां प्राप्त की और उन्हें सही तरह से रात को अपनी ड्यूटी करने का निर्देश दिया। कुछ दिन पूर्व ही मुसाबनी बस स्टैंड में 4 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं जो सुचारू रूप से कार्य कर रहे हैं। थाना प्रभारी राजा दिलावर ने कहा कि दुर्गा पूजा का पर्व हर्ष उल्लास व सौहार्द के साथ शांतिपूर्ण संपन्न हो गया इसके लिए क्षेत्र की जनता प्रशंसा के पात्र है। उन्होंने कहा कि किसी भी तरह की बाजार क्षेत्र में कोई समस्या होने पर बाजार समिति संपर्क करें उसका निदान करने का प्रयास किया जाएगा। इस अवसर पर एएसआई मृत्युंजय पांडे पुलिस बल के जवानों के साथ उपस्थित थे। साथ ही बाजार समिति के इम्तियाज अंसारी, पप्पू अली, रामआशीष सिंह जलधर प्रधान सहित काफी संख्या में दुकानदार उपस्थित थे। योजनाओं की गुणवत्ता पर ध्यान दें मुखिया : प्रखंड सभागार में प्रखंड विकास पदाधिकारी अभय द्विवेदी की अध्यक्षता में वर्ष 21-22 के अंतर्गत योजनाओं की राशि के भुगतान को लेकर मुखियाओं के साथ समीक्षा बैठक की गई। इसमें 15वें वित्त आयोग से ली गई योजनाओं की समीक्षा की गई। बैठक में मुखियाओं से कहा गया कि वे राशि का भुगतान करें तथा योजनाएं अधूरी है तो कार्य शुरू करें। उन्होंने मुखियाओं को योजनाओं की गुणवत्ता पर ध्यान रखने का निर्देश दिया। प्रखंड क्षेत्र के 11 पंचायतों के 50 प्रतिशत मुखिया ही उपस्थित रहने पर प्रखंड विकास पदाधिकारी ने नाराजगी व्यकत की और कहा कि पंचायत में जनता के विकास योजनाओं के क्रियान्वयन कैसे होगा यह समझ से परे हैं। जो मुखिया अनुपस्थित है उनसे आग्रह किया गया है कि वे 15 वित्त आयोग की योजनाओं को धरातल पर उतारने का कार्य करें अन्यथा जनता की राशि लैप्स हो जाएगी। उन्होंने मुखियाओं से कहा कि वे जरूरतमंद योजनाओं का चयन करें और उन्हें धरातल पर उतारे। बैठक में मुखिया शुकरा मुंडा, बुद्धेश्वर नायक, बिलासी सिंह, पूर्णचंद्र सिंह, मनसा राम मुंडा, प्रखंड समन्वयक सोनी हेंब्रम आदि उपस्थित थे।

Edited By: Jagran