जमशेदपुर (जासं) । जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय ने एक बार फिर अवैध खनन के बहाने पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास पर निशाना साधा है। सरयू ने ट्विटर पर लिखा है कि जून 2016 में तब के मुख्यमंत्री ने लौह अयस्क के अवैध खनन को बाजार में बेचने के लिए परिवहन चालान देने का आदेश दे दिया था। हालांकि उनके आदेश को चाईबासा के जिला खनन अधिकारी ने नहीं माना। यही नहीं, बिना सीटीओ (कंसेंट टू ऑपरेट) के अवैध खनन हुआ। सरयू ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को टैग करते हुए इस ट्विटर मैसेज में लिखा है कि क्या सरकार अवैध खनन करने वालों की मदद करने वाले पर कार्रवाई करेगी।

ज्ञात हो कि सरयू राय ने यह मुद्दा पहले भी उठाया था। 2017 में उन्होंने सारंडा में अवैध खनन के मामले में शाह ब्रदर्स की गतिविधियों की जांच की मांग करते हुए तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास को भी पत्र भेजा था। जब यह मामला काफी तूल पकडऩे लगा, तो तत्कालीन सरकार ने कंपनी पर लगाए गए 250 करोड़ रुपये जुर्माने को किस्तों में भुगतान करने की सुविधा दे दी थी। सरयू ने इस पर भी आपत्ति जताई थी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021