जमशेदपुर, जेएनएन।  मुख्‍यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा क्षेत्र से बतौर निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे  सरयू राय साकची में शराब दुकान के बाहर गुरुवार रात दो बजे तक धरना पर बैठे रहे। एसएसपी अनूप बिरथरे ने शराब लौटाने और थानेदार पर कार्रवाई का आश्वासन दिया, तब जाकर सरयू अपने समर्थकों के साथ उठे।

 दरअसल,साकची थाना की पुलिस ने गुरुवार की शाम करीब सात बजे साकची स्थित ब्लूज बार एंड रेस्टोरेंट के गोदाम से कई पेटी शराब जब्त कर ली। इस घटना की सूचना पर रेस्टोरेंट के मालिक अशोक भाटिया ने पुलिस पर आरोप लगाया कि उसने ताला तोड़कर शराब जब्त कर लिया। इसके बाद भाटिया के साथ सरयू राय भी मौके पर पहुंचे। सरयू ने कहा कि साकची पुलिस की यह करतूत काफी निंदनीय है।

थानेदार ने दिया ये जवाब

साकची थानेदार से बात करते सरयू राय। 

उन्होंने थानेदार राजीव कुमार सिंह से पूछा कि आपने बिना किसी कारण के किसी शराब गोदाम का ताला कैसे तोड़ दिया। जब पुलिस ने कहा कि वहां किताब दुकान से शराब बिकने की सूचना मिली थी, जिसके बाद यह कार्रवाई की गई। उन्होंने कहा कि आपने शराब बेचते हुए किसी को गिरफ्तार किया? आपने उत्पाद निरीक्षक को सूचना क्यों नहीं दी। गोदाम को सील क्यों नहीं किया। सीजर लिस्ट क्यों नहीं बनाया। थानेदार ने उन्हें बताया थाना में सीजर लिस्ट बनाया जा रहा है। थानेदार ने बताया कि उन्होंने पुलिस को शाम पांच बजे के बाद शराब बेचने की सूचना मिली थी। उन्होंने पुलिस टीम से बेचने वाले को गिरफ्तार करने के लिए कहा था, लेकिन टीम शराब ही उठाकर ले आई।

पहले थाना, फ‍िर धरना

वहीं भाटिया का कहना रहा कि पुलिस ने पूरा गोदाम खाली कर दिया। सरयू राय ने बताया कि उन्होंने इस घटना की सूचना राज्य निर्वाचन आयुक्त विनय चौबे के अलावा डीसी व एसएसपी को भी दे दी । वे साकची पुलिस के खिलाफ शिकायत दर्ज कराएंगे। रात करीब 12 बजे तक सरयू अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ साकची थाना में जमे रहे, बाद में दुकान के सामने ही भाटिया व सरयू अपने समर्थकों के साथ बार-रेस्टोरेट के सामने धरना पर बैठ गए।

 

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस