जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। झारखंड इंटक में अध्यक्ष पद को लेकर उत्पन्न विवाद का निपटारा इंटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीसंजीवा रेड्डी की पहल के बाद हो गया। पहले संजीवा रेड्डी ने अध्यक्ष का विवाद कर रहे अनूप सिंह को समझाया फिर प्रदेश की सभी यूनियनों को पत्र लिखकर नये अध्यक्ष राकेश्वर पांडेय को मदद करने का निर्देश दिया है।

इसके साथ ही सभी यूनियनों को बकाया राशि इंटक कोष में जमा करने की बात कही है। इससे अध्यक्ष पद का विवाद टलेगा साथ ही अंतरिम कमेटी का आगे चुनाव कराने का मार्ग भी प्रशस्त हो गया। 

अंतरिम (एडहाक) कमेटी बनाए जाने के बाद ही अनूप ङ्क्षसह ने राकेश्वर पांडेय को अध्यक्ष मानने से इन्कार करते हुए सभी यूनियन से समर्थन के लिए हस्ताक्षर अभियान भी चलाया था। इसके बाद वे राष्ट्रीय अध्यक्ष से मिलकर अपनी बात रखी। लेकिन डॉ. रेड्डी ने एडहाक कमेटी को संगठन के संविधान के अनुरूप बताते हुए उनके विरोध को अस्वीकार कर दिया। साथ ही संगठन का चुनाव जल्द कराने का आश्वासन दिया था।

वहीं प्रदेश अध्यक्ष राकेश्वर पांडेय ने कहा है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष के दिशा निर्देश के आलोक में चुनाव पूर्व प्रक्रिया पूरा करने तथा स्थिति सामान्य होने के साथ ही संगठन का चुनाव करा लिया जाएगा। 

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस