जमशेदपुर : भारतीय रेल लगातार तरक्की के नए आयाम तय कर रहा है। फिर चाहे यात्री सेवा हो या आधुनिक सुविधा देने का मामला हो। भारतीय रेल तेजी से अपनी व्यवस्था में सुधार कर रहा है लेकिन आपको शायद नहीं मालूम है कि भारतीय रेल में कुछ ऐसे स्टेशन है जो न सिर्फ अनोखे हैं बल्कि उनका नाम सुनकर शायद एक बार आपको हंसी भी आ जाए। तो आइए जानते हैं कि कौन-कौन से है वो स्टेशन, जो न सिर्फ अजीब है बल्कि उनका नाम भी दिलचस्प है।

बीवी नगर

बीवी नगर नाम थोड़ा अजीब है लेकिन भारतीय रेलवे का यह स्टेशन तेलंगाना के भवानीगए़ जिले में आता है। इस नाम को सुनते ही शायद आपको अपनी बीवी की याद आ जाए लेकिन सच में यह स्टेशन है जो अपने नाम के कारण काफी प्रसिद्ध है।

साली स्टेशन

साली को आधी घरवाली कहा जाता है। जब बीवी का नाम आए तो साली का रहना भी जरूरी होता है। यह स्टेशन है राजस्थान की राजधानी जयपुर डिवीजन के अंतर्गत आता है। जिसका नाम साली स्टेशन है। यह स्टेशन भी अपने नाम के कारण काफी मशहूर है।

सहेली

बीवी और साली के बाद एक और स्टेशन है जो काफी चर्चित है। इस स्टेशन का नाम है सहेली। यह स्टेशन मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले के अंतर्गत नागपुर रेलवे डिवीजन के तहत आता है।

बाप

राजस्थान के जोधपुर के समीप एक स्टेशन है जिसका नाम बाप है। यह स्टेशन भारतीय रेल के उत्तर पश्चिम रेलवे जोन के अंतर्गत आता है और अपने नाम के कारण यह काफी चर्चित है।

नाना

राजस्थान राज्य का एक और स्टेशन जो अपने अजीब नाम के कारण प्रसिद्ध है। इस स्टेशन का नाम है नाना रेलवे स्टेशन। यह स्टेशन राजस्थान के सिरोही पिंडवाड़ा नाम की जगह पर है। यहां हर दिन कई ट्रेन आकर रूकती है। यह रेलवे स्टेशन उदयपुर के काफी समीप है।

सूअर रेलवे स्टेशन

यदि किसी को आप सूअर कहें तो शायद आपसे झगड़ा हो जाए लेकिन आप ये कहें कि आप सूअर में रहते हैं तो सुनने में थोड़ा अजीब लगेगा। लेकिन यह सच है उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले में एक स्टेशन है जिसे जानवर के नाम पर, सूअर रखा गया है।

बिल्ली स्टेशन

सुअर के बाद एक और स्टेशन है जिसका नाम बिल्ली रेलवे स्टेशन है। यह स्टेशन भी उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में धनबाद डिवीजन के अंतर्गत आता है।

काला बकरा

जानवर के नाम पर एक और स्टेशन है जिसका नाम है काला बकरा। यह स्टेशन जालंधर के गांव के पास है। यह स्टेशन अपने नाम के कारण काफी चर्चित है। हालांकि यहां काला बकरा मिलता है ऐसा बिल्कुल नहीं है लेकिन ऐसा नाम क्याें रखा गया है, इसके बारे में किसी को अधिक जानकारी नहीं है।

भैंसा

सूअर, बिल्ली और काला बकरा के बाद एक और स्टेशन है जिसका नाम है भैसा। यह स्टेशन तेलंगाना जिले के निर्मल जिले में स्थित है।

दीवाना

दीवाना नाम का यह रेलवे स्टेशन हरियाणा के पानीपत के समीप स्थित है। यह रेलवे स्टेशन भले ही बहुत छोटा है लेकिन अपने नाम के कारण इसकी दीवानगी काफी ज्यादा है।

दारु स्टेशन

जी हां, आपने सहीं पढ़ा। इस स्टेशन का नाम ही है दारु। हालांकि इस स्टेशन का दारू या शराब से कोई लेना-देना नहीं है। झारखंड के हजारीबाग जिले में यह स्टेशन अपने नाम के कारण काफी प्रसिद्ध है।

पथरी

अजीबो-गरीब नाम पर एक और स्टेशन है जिसका नाम है पथरी। अक्सर हमने लोगों से सुना ही होगा कि उनके पेट पर पथरी हो गई है लेकिन इस नाम से कोई स्टेशन भी होगा। यह शायद किसी को मालूम नहीं होगा। लेकिन यह सच है क्योंकि महाराष्ट्र के प्रभाणी जिले में एक छोटा सा शहर है जिसका नाम पथरी है। इस स्टेशन पर अमृतसर से देहरादून के लिए चलने वाली पैसेंजर व एक्सप्रेस ट्रेन आकर रूकती है।

Edited By: Jitendra Singh