पोटका (पूर्वी सिंहभूम), जेएनएन। Potka Jamshedpur Loot Case पूर्वी सिंहभूम के कोवाली थाना इलाके के रसूनचौपा पुलिया के समीप ओडिशा के रायरंगपुर के दो व्यापारियों को लूटनेवाले दो अपराधी गिरफ्तार कर लिए गए हैं। उनके पास से लूटे गए कुछ रुपये भी बरामद किए गए।

व्यापारी प्रताप बेहरा एवं मुख्तार से फ़ायरिंग कर बंदूक की नोक पर एक लाख सत्तर हज़ार की लूट शनिवार की सुबह कर ली गई थी। इस मामले में अपराधियों द्वारा उपयोग किए गए पिकअप वैन कुछ दूर जाने के बाद खराब हो जाने से अपराधी पेट्रोल पंप के समीप छोड़कर खेत के रास्ते भाग निकले। इसी निशानदेही पर कोवाली पुलिस द्वारा तीन टीम का गठन कर विभिन्न जगहों पर छापेमारी की गई। छापामारी के दौरान घटना में शामिल आठ अपराधियों में से दो को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। इनमें खरसवां के रमेश महाली एवं सुंदरनगर थाना क्षेत्र के विधाता तंतुबाई शामिल है। विधाता तंतुबाई का अपराधिक रिकॉर्ड भी रहा है। वहीं इस घटना में शामिल बाकी छह अपराधी अभी भी पुलिस पहुंच से बाहर है।

मुख्य आरोपी अभी भी पुलिस पहुंच से बाहर

बताया जा रहा है कि इस घटना का मुख्य आरोपी अभी भी पुलिस पहुंच से बाहर है। हालांकि, रमेश महाली एवं विधाता तंतुबाई ने अपना अपराध स्वीकार करते हुए लूट के 21500 रुपये कोवाली पुलिस को सौंप दिए हैं। रमेश महाली ने कोवाली पुलिस को बताया कि सभी अपराधी बागबेड़ा थाना क्षेत्र के रहनेवाले हैं। अभी बाकी अपराधियों की गिरफ्तारी के बाद ही मामले का खुलासा हो पाएगा कि आखिर इस घटना का मास्टरमाइंड कौन है। वही रायरंगपुर थाना कोवाली थाना से संपर्क कर रही है क्योंकि कुछ दिनों पहले रायरंगपुर थाना क्षेत्र जो आेड़ीशा में है। वहां भी अपराधियों द्वारा गोली चला कर लूट की घटना को अंजाम दिया गया था। बाकी अपराधियों की गिरफ्तारी के बाद और भी कई घटनाओं का खुलासा होने की संभावना है। कोवाली पुलिस ने मेडिकल टेस्ट व कोरोना टेस्ट करा कर रमेश महाली एवं विधाता तन्तुबाई को जेल भेज दिया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप