चाईबासा जागरण संवाददाता। टी-20 वर्ल्ड कप की शुरुआत आज से होने वाली है। इसमें रनों की बरसात भी होगी। बड़े-बड़े बल्लेबाज शतक लगाने की तैयारी भी कर रहे हैं। लेकिन पश्चिम सिंहभूम जिला में भी एक अनोखा शतक बिना क्रिकेट मैदान के बन गया है। पेट्रोल ने पहली बार सौ का आंकड़ा पार कर लिया है। वहीं दूसरी साइट पर डीजल भी शतक से कुछ ही पैसों की दूरी पर है। चाईबासा में शनिवार को पेट्रोल 100.47 रुपये पहुंच गया है। वहीं डीजल 99.98 रुपये तक चढ़ चुका है। जबकि स्पीड पेट्रोल 103.33 रुपये तक पहुंच गया है।

त्योहारी सीजन में लोग क्या मशगूल हुए सरकार ने पेट्रोल और डीजल में शतकीय पारी खेल दी। पिछले दिन दिन से पेट्रोल और डीजल में 30 से 35 पैसों की बढ़ोत्तरी हो रही है। आम लोग त्योहार की खुशी मना कर जब पेट्रोल पंप पहुंचे तो दाम सुन कर चौंकना लाजमी था। लेकिन करें भी तो क्या। पहले से महंगाई का बोझ झेल रहे लोगों को और एक झटका लगा है। पेट्रोल व डीजल का दाम बढ़ने का सीधा असर आम लोगों के जेबों पर पड़ता है। आये दिन पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस आदि की बढ़ती कीमतों पर चिंता जताते हुए झारखंड ओबीसी आरक्षण मंच के जिलाध्यक्ष रामहरि गोप ने कहा कि सरकार को इस पर ध्यान देना चाहिए। दूसरी तरफ रोजमर्रा की वस्तुओं के बढ़ते हुए दामों से आमजन-जीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त कर दिया है। महंगाई आसमान छू रही है। इसकी वजह से करोड़ों मध्यम वर्ग व मेहनतकश जनता त्राहि-त्राहि कर रही है। जनहित के इस खास मुद्दे पर भी सरकार का खामोश दर्शक बने रहना अत्यंत दुखद है। केंद्र व राज्य सरकारें जनता के राहत के लिए तुरंत सख्त व प्रभावी कदम उठाये।

Edited By: Rakesh Ranjan