जमशेदपुर, जागरण संवाददाता। नई दिल्ली-भुवनेश्वर राजधानी एक्सप्रेस के यात्री पेंट्री कार का खाना खाकर फूड प्वाइजनिंग के शिकार हो गए है। यात्रियों की स्थिति खराब है। गोमो बोकारो और मुरी स्टेशन पर गाड़ी रोककर कुछ लोगों का इलाज किया गया। 

ट्रेन में बीमार यात्रियों के इलाज के लिए डॉक्टरों की टीम साथ-साथ चल रही है। राजधानी एक्सप्रेस के करीब 11:30 से 11:45 बजे तक टाटानगर स्टेशन पर पहुंचने की संभावना है। यहां रेल अधिकारियों ने पूरी तैयारी कर ली है। इलाज के लिए डॉक्टरों की टीम भी स्टेशन पहुंच चुकी है। ट्रेन के टाटानगर स्टेशन पहुंचने के बाद ही पता चल पाएगा कि कुल कितने यात्री बीमार हैं और उनमें से कितने यात्रियों की स्थिति गंभीर है।

यात्रियों की शिकायत की हुई अनदेखी

बातया गया है कि कानपुर रेलवे स्टेशन से पहले ही यात्रियों ने फूड प्वाइजनिंग की शिकायत की थी। लेकिन, यात्रियों की शिकायत को नजरअंदाज कर दिया गया और उन्हें चिकित्सा मुहैया नहीं कराई गई। यात्री रात भर हलकान-परेशान रहे। रविवार सुबह 8 बजे गाड़ी गोमो रेलवे स्टेशन पहुंची तो यात्रियों ने जमकर बवाल काटा। 

नई दिल्ली से गाड़ी खुलने के बाद रात में यात्रियों के बीच भोजन परोसा गया। भोजन के बाद यात्री असहज महसूस करने लगे। यात्रियों ने पेट में दर्द, उल्टी और लूज मोशन की शिकायत की। लेकिन, ध्यान नहीं दिया गया। यात्री रात पर हलकान-परेशान रहे। सुबह करीब  8 बजे गोमो रेलवे स्टेशन पर गाड़ी पहुंची तो यात्रियों ने जमकर हंगामा किया। रेलवे सुरक्षा बल के अधिकारियों और जवानों के समझाने के बाद यात्री शांत हुए। यात्रियों को चिकित्सा भी मुहैया कराई गई।

Posted By: Rakesh Ranjan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप