जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। जिले के उपायुक्त रविशंकर शुक्ला के आदेश को शहर के पेट्रोल पंप संचालक ठेंगा दिखा रहे हैं। सड़क सुरक्षा अभियान के दौरान उपायुक्त ने सभी पेट्रोल पंप के संचालकों के साथ बैठक की थी। जिसमें निर्देश दिया था कि सड़क सुरक्षा को प्रभावी बनाने के लिए सबका सहयोग आवश्यक है। इस पर सभी पेट्रोल पंप के संचालक ने सहमति दी थी कि वह अपने पेट्रोल पंप पर किसी भी मोटरसाइकिल या बाइक में पेट्रोल नहीं भरेंगे, जिसका सवार हेलमेट नहीं पहना हो।

इसकी जांच भी डीटीओ समय -समय पर करते रहते हैं। इसमें पेट्रोल पंप में लगे सीसीटीवी फुटेज की भी जांच की जाती है। यदि इसमें पाया गया किसी को बिना हेलमेट पहने बाइक सवार को पेट्रोल दिया गया हो तो शोकाज किया जाएगा। उपायुक्त व डीटीओ के आदेश का कुछ दिनों तक तो पालन किया गया, लेकिन प्रशासन जैसे ही सख्ती बरतना बंद किया, पेट्रोल पंप पर बिना हेलमेट पहने लोगों को धड़ल्ले से पेट्रोल दिया जा रहा है। इस संबंध में जागरण टीम शहर के कई पेट्रोल पंप का दौरा किया, जिसमें पाया कि बिना हेलमेट का पेट्रोल आसानी से दिया जा रहा है।

केस वन :- दैनिक जागरण टीम ने गुरुवार को जब साकची गोलचक्कर पर स्थित जेएमए स्टोर पेट्रोल पंप का मुआयना किया तो पाया कि पेट्रोल पंप पर बिना हेलमेट पहने बाइक सवारों को धड़ल्ले से पेट्रोल दिया जा रहा है।

केस टू :- जागरण टीम जब साकची शीतल छाया के बगल में स्थित इंदू ऑटोमोबाइल नामक पेट्रोल पंप पर गयी। पंप पर बिना हेलमेट पहले बाइक व स्कूटी सवारों को आराम से पेट्रोल दिया जा रहा था। जो सड़क सुरक्षा का नियम की धज्जियां उड़ा रहे थे। केस थ्री :- यही नहीं बिष्टुपुर स्थित रीगल ग्राउंड के पास स्थित जेएमए पेट्रोल पंप पर भी बिना हेलमेट पहने बाइक सवारों को पेट्रोल दिया जा रहा था। इससे साफ है कि पेट्रोल पंप संचालक जिला सड़क सुरक्षा समिति के आदेश का खुलेआम धज्जियां उड़ा रहे हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस