जमशेदपुर, जासं। होली के दिन जहां सारे लोग मौजमस्ती में रमे थे, वहीं कुछ ऐसे थे, जो इस रंगबिरंगी दुनिया देखने को आतुर थे। ऐसे 15 नेत्र रोगियों को रेडक्रास ने सोमवार को अस्पताल से काला चश्मा देकर घर विदा किया।

भारतीय रेडक्रास सोसाइटी, पूर्वी सिंहभूम व राममनोहर लोहिया नेत्रालय, बागबेड़ा द्वारा चिमनलाल भालोटिया सेवा संस्थान, राजस्थान सेवा सदन और जिला ग्रामीण स्वास्थ्य समिति के सहयोग से चलाए जा रहे अंधापन निवारण अभियान के तहत शनिवार को बागबेड़ा के थाना चौक स्थित राममनोहर लोहिया नेत्रालय में रविवार को नेत्र रोगियों का आपरेशन किया गया था। मदनलाल अग्रवाल की पुण्य स्मृति में आयोजित 606वें नेत्र शिविर के तहत इन नेत्र रोगियों का आपरेशन व लेंस प्रत्यारोपण किया गया। इसमें नेत्र चिकित्सक डा. बीपी सिंह, डा. पूनम सिंह, डा. विवेक केडिया व उनकी सहयोगी चिकित्सीय टीम शामिल रही। आपरेशन सत्र के दौरान समाजसेवी चंद्रमोहन सिंह, राकेश मिश्र, उमेश राम, दीपक शर्मा समेत रेडक्रास के अन्य सदस्य उपस्थित थे।

ये कहा शिविर के संचालक ने

शिविर का संचालन कर रहे रेडक्रास सोसाइटी, पूर्वी सिंहभूम के मानद सचिव विजय कुमार सिंह ने बताया कि आज जब सारी दुनिया रंग-गुलाल के बीच है, ऐसे में रेडक्रास की टीम उन आंखों को फिर से दुनिया की दिखाने को तत्पर है, जिनकी आंखें कई दिनों, महीनों, सालों से किसी भी रंग को देख नहीं पाई थी। सिर्फ उनकी दुनिया में स्याह अंधेरा था। सोमवार की सुबह जब इन आंखों से पट्टियां खुलेंगी, तो ये आंखें फिर से रंगों को पहचान सकेंगी। उन्होने इस शिविर की संयोजक गायत्री देवी और उनके परिवार के प्रति भी आभार जताया, जिन्होंने होली के अवसर पर शिविर का संयोजन कर जरूरतमंद आंखों को रोशनी देने में रेडक्रास की सहायता की।

Edited By: Rakesh Ranjan