पोटका, जागरण संवाददाता।  पिछले पांच सालों में झारखंड के पूर्वी सिंहभूम जिले के पोटका प्रखंड के मानपुर पंचायत में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत एक भी आवास नहीं बन पाया। जिसको लेकर सोमवार को मानपुर पंचायत भवन में लगे शिविर में सैकड़ों की संख्या में महिलाएं सुबह से ही कतार में लगी रही। उम्मीद एवं आशा के साथ अपने-अपने फॉर्म भरकर संबंधित स्टॉल में जमा करवाया।

महिलाओं का कहना है कि हम लोग कई बार प्रधानमंत्री आवास को लेकर आवेदन दे चुके हैं, मगर अब तक आवास नहीं बन पाया। तिरपाल के नीचे कई परिवार रहने को विवश हो रहे हैं। अंबिका महतो कहती हैं कि प्रधानमंत्री आवास की उम्मीद में तिरपाल के नीचे रहने को विवश हो रही है। मजदूरी कर जीवन यापन करते हैं इसके कारण अपना आवास का निर्माण नहीं कर पा रहे हैं। ऐसे लाभुकों को प्राथमिकता के आधार पर लाभ पहुंचाना चाहिए जिससे इन महिलाओं को आवास मिल सके। वही जमुरा राज कहती है की हर बार फॉर्म भरने के बाद एक उम्मीद रहती है कि इस बार आवास आ जाएगा, मगर पिछले 5 सालों से आवेदन देते देते थक चुकी हैं।

सरकार द्वारा मानपुर पंचायत में शिविर का आयोजन की खबर सुनते ही महिलाएं एक उम्मीद के साथ सैकड़ों की संख्या में कतारबद्ध होकर अपने-अपने आवेदन जमा करवाए इस उम्मीद के साथ कि इस बार आवास मिल ही जाएगा। आवेदन जमा करने वाली महिलाओं में अंबिका महतो, जमुना राज, सुशीला सिंह, लक्ष्मी देव, श्रीमती देव, गंगा मनी देव, पार्वती पटबंधया, सौदामिनी देव, गीता रानी देव, वसुंधरा देव, तनुजा, संध्या, अमूल्य देव, शिवानी देव, अनीता देव शामिल हैं। शिविर में विभिन्न विभागों के स्टॉल पर लोगों ने अपने -अपनी समस्याओं को रखा। शिविर में वृद्धा पेंशन की स्वीकृति पत्र का वितरण किया गया। साथ ही जरूरतमंदों के बीच कंबल का भी वितरण किया गया।

शिविर में जिला परिषद चंद्रावती मुर्मू, प्रखंड विकास पदाधिकारी महेंद्र रविदास, अंचल अधिकारी इम्तियाज अहमद, पशुपालन पदाधिकारी अशोक राम, सीडीपीओ विभा सिन्हा आदि उपस्थित रहे।

Edited By: Rakesh Ranjan