मुसाबनी(पूर्वी सिंहभूम), जासं।  पूर्वी सिंहभूम के मुसाबनी थाना क्षेत्र  में एक आदिम जनजाति समुदाय की नाबालिग हवस का शिकार बनी है। वह पांच माह की गर्भवती है। न्याय की गुहार लगाते वह धाना पहुंची। पुलिस ने आरोपित युवक को गिरफ्तार कर लिया है। पीड़िता के बयान पर प्राथमिकी दर्ज की गई है।

थाना प्रभारी संजीव कुमार झा ने बताया कि पीड़िता नाबालिग है। इसकी सूचना चाइल्ड लाइन को दी गई है। चाइल्ड लाइन के सदस्यों राजेश मिश्र, लखी चरण बास्के व प्रभा मुर्मू ने धाना पहुंचकर नाबालिग से पूछताछ कर काउंसलिंग की। पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए सीएचसी भेज दिया गया। बताते चलें कि पीड़िता के माता-पिता जब आरोपित के पास गए तो उसने शादी करने के एवज में दो लाख रुपये की मांग कर दी। बाद में पीड़िता के चरित्र पर सवाल उठाते हुए शादी से इंकार कर दिया। पीड़िता ने बताया कि आरोपित ने कई महीनों तक उसका यौन शोषण किया। एक माह पूर्व घाटशिला के एक नर्सिंग होम में गर्भपात कराने ते गया था लेकिन डॉक्टरों ने ऐसा करने से मना कर दिया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस