जमशेदपुर, जासं। टाटा स्टील डाउन स्ट्रीम लिमिटेड ( टीएसडीपीएल) के कर्मचारियों को 15.3 फीसद बोनस मिलेगा। गुरुवार को प्रबंधन और यूनियन के बीच समझौते पर हस्ताक्षर हो गया। कर्मचारियों के बीच 2 करोड़ 20 लाख रुपये बोनस मद में वितरीत किया जाएगा। समझौते के तहत कर्मचारियों को अधिकतम 68,174 रुपये और न्यूनतम 37,681 रुपये मिलेंगे। बोनस की राशि 19 अक्टूबर को कर्मचारियों के बैंक खाते में भेज दी जाएगी। 

पिछले वर्ष 18 फीसद बोनस मिला था। इस वर्ष की तुलना में पिछले वर्ष 18 लाख अधिक 2.38 लाख रुपये बोनस मद में मिले थे। इस तरह इस वर्ष कर्मचारियों को पिछले वर्ष से न्यूनतम सात हजार व अधिकतम तीन हजार रुपये कम मिलेंगे। समझौते में कोलकाता से ऑनलाइन कंपनी के वीपी ओमप्रकाश, आनंद कृष्णन, शुभमय मजूमदार, जमशेदपुर से अश्विनी कुमार, शेखर झा, सुब्रतो बनर्जी, गौरव बनर्जी तथा यूनियन से अध्यक्ष राकेश्वर पांडेय, डिप्टी प्रेसीडेंट दिनेश कुमार महामंत्री अमनजी, सलाहकार त्रिदेव सिंह,एसबी राणा, रमेश चौधरी, बंशीधर सिंह, शशि मिश्रा, उपेंद्र राय, मनोज सिंह, मनोज उपाध्याय आदि शामिल हुए और हस्ताक्षर किया।

फार्मूला का होगा रिव्यू 

बोनस वार्ता के दौरान फार्मूला पर भी चर्चा हुई। फार्मूला में पहली बार सुरक्षा मानक को जोड़ा गया है। वार्ता में फैसला हुआ कि एक से दो सप्ताह में बैठकर इसका रिव्यू कर सुधार किया जाएगा।

इस बार 15 करोड़ हुआ था काम मुनाफा

वित्तीय वर्ष 2019-20 में कंपनी को 61 करोड़ का मुनाफा हुआ था। जबकि उससे एक साल पूर्व 2018-19 में करीब 76 करोड़ का लाभ हुआ था। ऐसे में देखा जाए तो इस बार 15 करोड़ कम मुनाफे के बावजूद कोरोना काल में कर्मचारियों को 15.3 फीसद बोनस मिला है। इससे करीब 320 स्थायी कर्मचारी लाभान्वित होंगे।

बीते साल अधिकतम बोनस था 65,756

पिछले साल कर्मचारियों को 18 फीसद बोनस मिला था। समझौते के मुताबिक कर्मचारियों को न्यूनतम बोनस 28,547 व अधिकतम 65,756 रुपए मिला था।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस