जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : महाराष्ट्र के नागपुर से ओडिशा के बालासोर जा रही मिलिट्री स्पेशल ट्रेन में मंगलवार को सैनिकों का सफर मुश्किल भरा रहा। ट्रेन में पानी खत्म होने से जवान प्यासे सफर कर रहे थे। बिजली और पानी की आस में ये ट्रेन तीन घंटे तक टाटानगर की मेन डाउन लाइन पर खड़ी रही। इससे ट्रेनों के परिचालन में बाधा आई। सेना के जवान ट्रेन को बिना चार्ज कराए आगे जाने के लिए तैयार नहीं थे। अंतत: ये स्पेशल ट्रेन बिना पावर के ही टाटा नगर से रवाना हुई।

सेना का साजोसामान लेकर नागपुर से बालासोर जा रही मिलिट्री स्पेशल ट्रेन में सफर कर रहे सेना जवान परेशान थे। 34 बोगी की इस ट्रेन में दो एसी कोच और एक स्लीपर कोच में सेना के अधिकारी और जवान सफर कर रहे थे। बाकी बोगियों में सेना के वाहन और अन्य सामान थे। ट्रेन जब नागपुर से चली तो थोड़ी देर बाद ही इसका पावर खत्म होने से एसी ने काम करना बंद कर दिया। कोच के पंखे भी नहीं चल रहे थे। सेना के अधिकारियों ने बीच में पड़ने वाले हर स्टेशन पर रेलवे के अधिकारियों से ट्रेन में पानी देने, इसकी बैट्री चार्ज करने और सफाई करने का अनुरोध किया लेकिन, उनकी कहीं नहीं सुनी गई। ट्रेन में पानी खत्म होने की वजह से जवान प्यासे थे। अगले स्टेशन पर पानी और बिजली उपलब्ध कराने की बात कह रेलवे के अधिकारी जवानों को टरकाते रहे। शाम पौने पांच बजे जब ये ट्रेन टाटानगर रेलवे स्टेशन पहुंची तो सेना के जवानों ने रेलवे स्टेशन के निदेशक एचके बलमुचू से बात कर ट्रेन को पानी देने, सफाई कराने और बैट्री चार्ज कराने को कहा। निदेशक के कहने पर रेलवे के अधिकारियों ने ट्रेन में पानी तो भर दिया लेकिन, सफाई और चार्जिग के लिए तैयार नहीं हुए। सेना के अधिकारियों ने डीआरएम से भी बात की लेकिन, कोई फायदा नहीं हुआ। बाद में रेलवे के अधिकारियों ने ट्रेन को अगले स्टेशन पर चार्ज करने की बात कह कर किसी तरह रवाना किया और अपनी डाउन लाइन खाली कराई। इसके बाद डाउन लाइन पर परिचालन चालू हो सका।

---------

प्लेटफार्म नहीं होने से आई दिक्कत

मिलिट्री स्पेशल ट्रेन आने की सूचना टाटा नगर रेलवे स्टेशन को नहीं थी। इस वजह से इसे प्लेटफार्म की मेन डाउन लाइन पर ले लिया गया। बाद में जब सेना के जवानों ने पानी भरने और चार्जिग को कहा तो अधिकारियों के पसीने छूट गए। ट्रेन के प्लेटफार्म पर नहीं होने से स्टेशन का बिजली केबल गाड़ी तक नहीं पहुंच सका।

---

ट्रेन में पानी दे दिया गया है। मिलिट्री स्पेशल को रवाना करा दिया गया है। ट्रेन के प्लेटफार्म पर नहीं होने से पावर उपलब्ध नहीं हो सका।

-एचके बलमुचू, स्टेशन अधीक्षक

Posted By: Jagran