जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : विश्वकर्मा पूजा की तैयारी को लेकर बाजार में प्रसाद व मिठाई खरीदने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी है। मिठाई की दुकान व लड्डू की दुकानों में पहले से लिए गए आर्डर की डिलीवरी रविवार की शाम से हो रही है। वहीं इन दुकानों में लड्डू व मिठाई लेने वाले ग्राहकों की भीड़ लगी हुई है। भगवान विश्वकर्मा की मूर्तियों से बाजार सजा हुआ है। श्रद्धालु अपने हिसाब से विश्वकर्मा भगवान की मूर्ति खरीद रहे हैं। यह मूर्ति 100 रुपये से लेकर 20 हजार रुपये तक बाजार में बेची जा रही है।

रविवार को बारिश बावजूद बाजार में श्रद्धालुओं की भीड़ रही। दुकानदार अपने दुकानों के आगे तिरपाल लगाकर सामान बेच रह हैं। बाजार में खरीदारी करने आए श्रद्धालुओं की भीड़ के कारण बाजार में जाम की स्थिति है। मानगो बाजार के सड़कों पर ही पूजन सामग्री से दुकान सजा ली गई हैं। वहीं साकची बाजार में भी सड़क पर ही अस्थायी रूप से दुकानों में फूल माला व पूजन सामग्री बेचे जा रहे हैं।

छप्पन भोग में काजू केशर वर्फी, काजू वास्केट, काजू अनारकली, फ्रूट बर्फी सहित कई तरह के मिठाई विश्वकर्मा पूजा के लिए तैयार की गई है।

--------

यह है प्रसाद की कीमत प्रति किलो

सेब : 100-120 रुपये

लड्डू : 100-140 रुपये

बूंदी : 100-110 रुपये

गाजा : 100-110 रुपये

बालूसाई : 90-100 रुपये

सोहाली : 110-120 रुपये

बेसन लड्डू : 160-170 रुपये

मसूर पाक : 160-170 रुपये काजू रोल : 820 रुपये

सोन पापड़ी : 400 रुपये

दिलखुश : 440 रुपये

फ्रूट बर्फी : 440 रुपये

खोया बर्फी :400 रुपये

मिल्क केक : 440 रुपये

चोको ब्रिक्स : 400 रुपये

कुल्फी बर्फी : 750 रुपये

काजू केशर बर्फी : 820 रुपये

काजू बास्केट :900 रुपये

काजू अनारकली : 900 रुपये यह है फलों की कीमत

सेव : 100-120 रुपये

अनार : 90-100 रुपये

अंगूर : 100-130 रुपये

केला : 50-60 रुपये दर्जन

खीरा : 40-60 रुपये

गाजर : 40-50 रुपये

(कीमत प्रति किलो)

:::::::::::::

पूजन सामग्री का बाजार

कलश : 20-30 रुपये

धूप : 15-25 रुपये

घी : 20-25 रुपये

विश्वकर्मा जी का स्टीकर : 20-50 रुपये

पताखा कपड़ा :10-20 रुपये

अगरबत्ती :10-20 रुपये

विश्वकर्मा की मूर्ति : 100-20,000 रुपये

माला : 20-30 रुपये

झालर : 20-50 रुपये

फूल : 20-30 रुपये

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran