जमशेदपुर (जासं) । शहर के प्रतिष्ठित स्कूलों में शुमार लोयोला स्कूल झारखंड सरकार के निर्देशों की धज्जियां उड़ा रहा है। एक तो उसने कोविड-19 में भी ट्यूशन फीस बढ़ा दी। दूसरा कई प्रकार के शुल्क भी ले रहा है। इसकी शिकायत जमशेदपुर अभिभावक संघ के अध्यक्ष डॉ. उमेश ने बुधवार को राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग व झारखंड सरकार के शिक्षा मंत्री तथा उपायुक्त को ट्वीट कर की है। उधर, लोयोला स्कूल के प्राचार्य फादर पायेस ने बताया कि सरकार ने वार्षिक शुल्क लेने की मनाही है। हम वार्षिक शुल्क नहीं ले रहे हैं। ट्यूशन फीस के साथ ऐसा शुल्क लिया जा रहा है जो जरूरी है। जहां तक फीस बढ़ोतरी की बात है उसे शैक्षणिक सत्र के आखरी क्वार्टर में एडजस्ट कर दिया जाएगा।

डॉ. उमेश द्वारा किए गए ट्वीट में बताया गया कि पिछले सत्र में 10वीं क्लास की छह माह की ट्यूशन फीस 15180 थी जो अब 15960 रुपये कर दी गई है। छह माह की ट्यूशन फीस में 780 रुपये की बढ़ोतरी की गई है। इसके अलावा लॉकडाउन अवधि में स्कूल नहीं चलने के बावजूद स्टेशनरी में 700 रुपये, इंश्योरेंस में 50, स्मार्ट क्लास मद में 1200, एक्टिविटि लैब मद में 1500 यानी कुल 3450 की राशि भी ली जा रही है। कुल छह माह का शुल्क 19410 रुपये लिया जा रहा है। 

Edited By: Vikas Srivastava