जमशेदपुर, जासं। Lost three lakh rupees from fathers account in playing PUBG game मोबाइल पर पबजी गेम खेलने की लत के कारण जमशेदपुर शहर के नामी स्कूल में आठवीं कक्षा में पढ़ने वाले एक छात्र ने पिता के खाते से तीन लाख रपये गंवा दिए। इस बात का खुलासा साइबर थाने की पुलिस की जांच में हुआ।

दरअसल, एक व्यक्ति बैंक खाते से किस्तों में ऑनलाइन बड़ी राशि निकाले जाने की शिकायत लेकर साइबर थाने पहुंचा। पुलिस की जांच में पबजी गेम खेलने के दौरान राशि की कटौती की बात सामने आई। पुलिस ने उस व्यक्ति को बच्चे के साथ बुलाया। स्कूल की छुट्टी के बाद शिकायतकर्ता बेटे को लेकर साइबर थाना पहुंचा। पुलिस की पूछताछ में बच्चे ने बताया कि वह पब्जी गेम खेलता है। उसने ही पिता का एटीएम कार्ड (ऑटोमेटेड टेलर मशीन कार्ड) का नंबर पंजीकृत कराया था। बेटे का नाम आते ही पिता शिकायत वापस लेकर लौट गया।

जिस चीज की जरूरत होती, खरीद लेता  उस लड़के ने इस गेम में उसने अपने पिता का एटीएम कार्ड रजिस्टर कराया था। पबजी गेम में जब भी उसे किसी चीज की जरूरत होती थी वो खरीद लेता था। उसने रायल पास, ड्रेस आदि चीजें खरीदी और तीन महीने में उसने पिता के खाते से तीन लाख रुपये उड़ा दिए। इस गेम में वो और उसके कुछ दोस्त भी साथ खेलते थे।

क्या है पबजी

पब्जी गेम एक मोबाइल गेम है। आज के समय में यह ऑनलाइन गेम भारत में बहुत ही ज्यादा प्रचलित एवं चर्चित हो चुका है। इसके प्रचलित होने का कारण इसका ग्राफिक्स है, जो बहुत ही ज्यादा अच्छा है। खेल के दौरान वीपन खरीदने के लिए ऑनलाइन पैसे का भुगतान करने को कहा जाता है। इसके लिए डेबिट कार्ड को रजिस्टर करने को कहा जाता है। बच्चे ने यही किया और उसने कई वचरुअल वीपन खरीद लिए। आजकल बच्चे और बूढ़े सभी लोग पबजी के बारे में जानते हैं। यह गेम किसी नशे की तरह है। बच्चे पढ़ना छोड़कर इसे ही खेल रहे हैं। इस गेम से बच्चों के पढ़ाई का भी नुकसान हो रहा है। कई स्तरों पर इस खेल के चलन पर गहरी चिंता जताई जा चुकी है।

 

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस