जागरण संवाददाता, जमशेदपुर :

भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआइसी) की स्थापना को 63वर्ष पूरे हो गए। इस खुशी में रविवार को बीमा सप्ताह का शुभारंभ किया गया, जिसका उद्घाटन पद्मश्री जमुना टुडू ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इससे पूर्व बिष्टुपुर स्थित जीवन प्रकाश भवन परिसर में वरीय मंडल प्रबंधक मोहम्मद मोबिनुद्दीन अंसारी ने झंडोत्तोलन किया। उन्होंने बताया कि गत वित्तीय वर्ष में जमशेदपुर मंडल ने 1.98 लाख बीमा पालिसी व 427 करोड़ की नई प्रीमियम का समायोजन किया। जमशेदपुर मंडल सभी मानकों पर खरा उतरते हुए अखिल भारतीय स्तर पर 25 मंडलों में अपना स्थान बनाने में सफल रहा। गत वित्तीय वर्ष में एकल प्रीमियम में कीर्तिमान बनाते हुए 29 मंडलों में शुमार हुआ। वहीं जमुना टुडू ने अपने संबोधन में पर्यावरण संरक्षण व हमारे जीवन में वृक्षों के महत्व पर प्रकाश डाला। इसके साथ ही एलआइसी का बीमा सप्ताह कार्यक्रम का शुभारंभ हो गया, जिसमें सात सितंबर तक विभिन्न कार्यक्रमों-प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा। पहले दिन जीवन प्रकाश भवन में स्कूली बच्चों के लिए चित्रांकन प्रतियोगिता हुई, जिसमें विभिन्न स्कूलों से करीब 250 छात्र शामिल हुए।

-------------

आज निकलेगी मेगा रैली

बीमा सप्ताह कार्यक्रम के तहत सोमवार को बिष्टुपुर स्थित जीवन प्रकाश भवन से दोपहर 3.30 बजे मेगा रैली निकलेगी, जिसमें अधिकारियों-कर्मचारियों के साथ बीमा एजेंट भी शामिल रहेंगे। सात सितंबर तक चलने वाले कार्यक्रम में ग्रामीण स्वास्थ्य शिविर, संभाषण प्रतयिोगिता, ग्राहक सम्मेलन, पौधरोपण, क्विज आदि होंगे।

---------------

पांच करोड़ से शुरू हुआ था एलआइसी : अंसारी

भारतीय जीवन बीमा निगम, जमशेदपुर के वरीय मंडल प्रबंधक ने रविवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि एलआइसी की शुरुआत एक सितंबर 1956 को पांच करोड़ की पूंजी से हुई थी। उस वक्त की छोटी-बड़ी 45 कंपनियों को मिलाकर भारतीय जीवन बीमा निगम का रूप दिया गया था। आज इसकी परिसंपत्ति 31 लाख 18 हजार करोड़ हो गई है, जबकि 28 लाख 28 हजार करोड़ लाइफ फंड और दो करोड़ 14 लाख पालिसी है। आज 23 निजी बीमा हैं, इसके बावजूद कंपनियां भारतीय बाजार में एलआइसी की हिस्सेदारी 74.71 फीसद है। हमने गत वर्ष 1498 करोड़ रुपये का दावा भुगतान किया, जिसमें 97.04 करोड़ रुपये मृत्यु बीमा के हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप