चाकुलिया (संसू)। पूर्वी सिंहभूम जिले के बहरागोड़ा विधानसभा क्षेत्र में झामुमो और भाजपा के प्रत्याशियों द्वारा सोशल मीडिया पर वार एवं पलटवार के कारण चुनावी माहौल गरमा गया है।

इस मामले में झामुमो अध्यक्ष हेमंत सोरेन के शामिल हो जाने से मामला दिलचस्प हो गया है। कुछ दिनों पहले तक हेमंत सोरेन के काफी करीबी रहे बहरागोड़ा विधायक कुणाल षाड़ंगी ने रविवार को उन पर कई गंभीर आरोप मढ़ दिए। यहां तक कह दिया कि हेमंत सोरेन का बालू कारोबारियों से घनिष्ठ संबंध रहा है, जिसकी गूंज विधानसभा में भी सुनाई पड़ चुकी है।

उनके शासन में झारखंड के बालू को मुंबई के व्यापारियों के हाथों बेच दिया गया था। कुणाल ने यहां तक कह दिया कि ज्यादा मुंह मत खुलवाइए नहीं तो मैं इतनी बातें जानता हूं कि प्रचार के लिए आपका आना मुश्किल हो जाएगा। दरअसल, यह पूरा मामला झामुमो प्रत्याशी

हेमंत सोरेन ने यह लिखा अपने अकाउंट पर

क्या ऐसे जीतेगी भाजपा? क्या ऐसे जीतेंगे रघुवर दास? जहां भाजपा का धन तंत्र काम नहीं कर रहा वहां वह सरकारी तंत्रों का दुरुपयोग करने पर अमादा है। बहरागोड़ा में नामांकन के बाद समीर को प्रताड़ित किया जा रहा है। बहरागोड़ा की जनता ऐसा होने नहीं देगी।

लाखों झामुमो समर्थकों की ओर से मैं भाजपा को चेतावनी देता हूं कि उसकी यह कुत्सित चालें काम नहीं आने वाली। मैं नेतृत्व दूंगा वहां के झामुमो समर्थकों को। खुद संभालूंगा वहां के प्रचार की कमान। गरीब का बेटा जीतेगा, भाजपा का अहंकार हारेगा।

 

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस