जमशेदपुर, जासं।  गुरुनानक देव जी के 550वें प्रकाश उत्सव को लेकर कीताडीह स्थित आरपीएफ मैदान में 15000 स्क्वायर फिट का पंडाल बन रहा है। जबकि पांच हजार स्क्वायरफिट में लंगर हॉल अलग से तैयार हो रहा है। नौ नवंबर को होने वाले समागम में शिरकत करने के लिए तख्त श्री हरिमंदिर साहिब पटना से हजुरी रागी भाई कुलविंदर सिंह जी, पंजाब से कथा वाचक भाई दिलबाग सिंह जी पहुंच रहे हैं।

सुबह 9.30 बजे से निकलेगी शोभा यात्रा

कीताडीह गुरुद्वारा से नौ नवंबर की सुबह 9.30 बजे शोभा यात्रा निकाली जाएगी। यात्रा गुरुद्वारा से निकलकर कीताडीह आरपीएफ मैदान में बने पंडाल तक जाएगी। वहां सुबह 10 से 12 बजे तक भाई कुलविंदर सिंह जी कीर्तन गायन करेंगे। दोपहर बारह से साढ़े बारह बजे तक सहज पाठ होगा। इसके दिलबाग सिंह जी सुनाएंगे।

संगत को सैंची लाने की जरूरत नहीं

कीताडीह गुरुद्वारा के प्रधान अर्जुन वालिया ने कहा कि अमृतसर से आए चार हजार सैंचियों में से लौहनगरी में 32 सौ सौंचियां वितरित की गई हैं। उन सैंचियों को नौ नवंबर को कीताडीह आरपीएफ मैदान मेंं होने वाले समागम में लाने की आवश्यकता नहीं है। अमृतसर से आए कथावाचक भाई दिलबाग सिंह जी द्वारा श्लोक महला नौवां का पाठ संगत के बीच बोलेंगे। जिनके पीछे-पीछे संगत बोलेगी।

12 को कीताडीह गुरद्वारा में सजेगा कीर्तन दरबार

प्रधान अर्जुन वालिया ने बताया कि नौ नवंबर को कीताडीह आरपीएफ मैदान में समागम की समाप्ति के उपरांत 12 नवंबर को कीताडीह गुरुद्वारा में समागम का आयोजन किया जाएगा। इसमें गुरु का अटूट लंगर संगत के बीच सेवा की जाएगी।  

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस