जासं, जमशेदपुर : पोटका थानाक्षेत्र की नाबालिग लड़की से दुष्कर्म के मामले में रविवार की सुबह पुलिस ने आरोपित संजय सरदार को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। सोहदा निवासी संजय सरदार 14 अक्टूबर की शाम लगभग सात बजे कालिकापुर स्टैंड में टेंपो के लिए सवारी का इंतजार कर रहा था। इतने में एक नाबालिग लड़की संजय के पास आई और कही कि मेरे पिता ने मुझसे मारपीट की है। प्राथमिकी दर्ज कराने पोटका थाना जाएंगे। संजय ने उसे टेंपो में बैठा लिया। ठीक इसी वक्त संजय का फोन आया कि कुछ सवारी को धिरौल छोड़ना है। संजय पहले पीड़िता संग 5-6 सवारी को बैठा कर धिरौल छोड़ दिया और लड़की को लेकर बालीजुड़ी के पास एकांत मैदान में उसके साथ दुष्कर्म किया। फिर 15 अक्टूबर की सुबह लड़की को कालिकापुर स्टैंड में छोड़ दिया। लड़की ने अपने स्वजनों को फोन किया। लड़की की मां स्टैंड आई और उसे लेकर अपने मायके राजनगर चली गई। मायके में मां के पूछताछ करने पर पीड़िता ने दुष्कर्म घटना की जानकारी से अवगत कराया। पीड़िता के अनुसार पोटका थाने में प्राथमिकी दर्ज नहीं करने पर 16 अक्टुबर को मां बेटी संग एसएसपी जमशेदपुर पहुंची एवं घटना की जानकारी दी। एसएसपी ने थाना को केस दर्ज करने के निर्देश दिए। थाना प्रभारी ने पीड़िता के बयान पर आरोपी की पहचान संजय सरदार के रूप में कर रविवार सुबह ही उसे गिरफ्तार कर लिया। हालांकि संजय ने कहा कि उसे बेवजह फंसाया गया । संजय पोक्सो एक्ट लगाया गया है।

Edited By: Jagran